January 23, 2021

Live Akhbar

Pop Culture Hub

CHINA AND MALDIVES

CLASH BETWEEN CHINA AND MALDIVES

Maldives और China कर्ज भुगतान को लेकर आपस में भिड़े

Maldives and China have publicly spoken about debt repayment.

मालदीव और चीन के बीच कर्ज भुगतान को लेकर सार्वजनिक मंच में कहासुनी हुई।

China के कर्ज को Maldives में लेकर हमेशा चिंता जताई जाती है।

लेकिन पिछले हफ्ते यह कहासुनी सार्वजनिक मंच पर सामने आ गई।

MALDIVES AND CHINA

Twitter पर हुई कहासुनी –

twitter

यह कहासुनी मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति साथ ही मौजूदा संसद स्पीकर मोहम्मद नशीद और मालदीव में चीन के मौजूदा राजदूत चांग लीचोंग के बीच ट्विटर पर हुई।

Mohamed Nasheed

MALDIVES AND CHINA

मोहम्मद नशीद ने 11 दिसंबर को यह ट्वीट किया कि ” अगले दो हफ्तों में मालदीव को कर्ज की बड़ी रकम चीनी बैंकों को भुगतान करनी है “

Chang li Chong

उनके इस ट्वीट में किए गए दावों को राजदूत चांग लीचोंग द्वारा खारिज की गई।

उन्होंने इस ट्वीट के जवाब में लिखा कि “मालदीव को कर्ज का भुगतान करना है लेकिन रख इतनी बड़ी नहीं जितना मोहम्मद नशीद कह रहे हैं”।

मोहम्मद नशीद को मालदीव का सबसे लोकप्रिय नेता माना जाता है। कुछ लोग उन्हें भारत समर्थक भी कहते हैं।

नशीद ने अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट किया

” मालदीव को अगले 14 दिनों में चीनी बैंकों को 1.5 करोड़ डॉलर किसी भी तरह चीनी बैंकों को भुगतान करना है।
उन्होंने यह दावा भी किया कि चीनी बैंकों ने हमें इन कर्जों में किसी भी प्रकार की छूट नहीं दी है। यह भुगतान सरकार की आय के 50 फ़ीसदी के बराबर है।
कोविड संकट के बीच मालदीव किसी तरह से उबरने की कोशिश में जुटा है “

नशीद के इस ट्वीट के 2 घंटे बाद चीनी राजदूत ने नशीद के सारे दावों को खारिज कर दिया।

चांग लीचोंग ने नसीद के जवाब में लिखा

“बैंकों से मुझे जानकारी नहीं है उसके हिसाब से मालदीव को 1.5 करोड डॉलर का कोई कर्ज अगले 14 दिनों में भुगतान नहीं करना । आप अकाउंट बुक चेक कीजिए और इसे बजट के बचा कर रखिए , चेयर्स “

12 दिसंबर को चीनी राजदूत ने फिर से ट्विटर पर ट्वीट किया और कहा ” मैंने कुछ होमवर्क किया है । 2020 में 17 लाख 19 हजार 535 डॉलर के कर्ज के भुगतान की बात सही है। हुलहुमले हाउसिंग प्रोजेक्ट फेस 2 में 1530 हाउसिंग यूनिट के लिए लिया गया 23 लाख 75 हजार कर्ज किसी तीसरे देश के बैंक से है, ना कि यह चाइना डेवलपमेंट बैंक का है।

चीनी राजदूत ने इस ट्वीट के साथ कुछ दस्तावेजों को भी पोस्ट किया था।

चीनी राजदूत के इस ट्वीट के जवाब में ट्विटर यूजर ने कहा

“वार्षिक रिपोर्ट 2018 के अनुसार मालदीव ने हाउसिंग डेवलपमेंट कॉरपोरेशन हुलहुमले फेस 3 में 1530 हाउसिंग यूनिट बनाने के लिए चाइना डेवलपमेंट बैंक से 4.2 करोड डॉलर के कर्ज लिए थे।
अगर इसके कर्ज़ के भुगतान करने की बारी आएगी तो आपका यह स्क्रीनशॉट दिखा देने से हो जाएगा ना ?

इस ट्वीट पर चीनी राजदूत का कोई जवाब नहीं आया।

ऐसे में मोहम्मद नसीम में ऐसे मौके के तौर पर लिया परिस्थिति को संभालने की कोशिश करते दिखाई दिए।

मालदीव में वर्तमान चीनी राजदूत अपनी हाजिर जवाबी के लिए जाने जाते हैं। इसी कारण से मालदीव में उन्हें चाहने वाले भी खूब है ‌।

खासकर मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामीन चीनी राजदूत का खुलकर समर्थन करते नजर आते हैं।

मालदीव की पूर्व सरकार को चीन समर्थक कहा जाता था और वर्तमान सरकार को भारत समर्थक ।

भारत ने मालदीव को 1.4 अरब डॉलर की वित्तीय मदद देने की घोषणा करी है।

मालदीव में चीन और भारत की राजनीति हमेशा चर्चा का विषय बना रहता है।

MALDIVES AND CHINA

QUICK UPDATE

▪️Trouble between Maldives and China over debt!

▪️Maldives has always raised concerns about China’s debt. But last week, this saying surfaced on the public stage.

▪️The spat between former Maldives president and Chinese ambassador took place on Twitter.

READ ABOUT FARMER PROTEST