Connect with us

Hi, what are you looking for?

Release Dates

RTGS Facility अब होगी 24×7 उपलब्ध, ग्राहकों को होगी सुविधा

RTGS Facility

आज रात 12:30 बजे से पूरे देश में यह सुविधा शुरू हो गई है कि बैंकों का रियल टाइम ग्रॉस सेटेलमेंट सिस्टम यानी आरटीजीएस (RTGS facility) अब 24 घंटे के लिए 7 दिन उपलब्ध रहेगा। यह जानकारी सोशल मीडिया पर आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास ने दी है। मुद्दे पर फैसला मॉनिटरी पॉलिसी की बैठक में 4 दिसंबर को ही ले लिया गया था।

  • आपको बता दें कि इस सिस्टम में अब ग्राहकों को ज्यादा परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।
  • पैसे भेजने में अब उन्हें बहुत आसानी होगी।
  • अगर वर्तमान स्थिति के बात की जाए तो यह सिस्टम हर महीने के दूसरे और चौथे शनिवार को छोड़कर सभी दिन काम करता है।
  • यह सुबह 7:00 बजे से शाम 6:00 बजे तक काम करता है।
  • अब आज से ये 24 घंटे सातों दिन उपलब्ध रहेगा।

शक्तिकांत दास ने किया ट्वीट


सोशल मीडिया पर आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने ट्वीट किया की आज रात 12:30 बजे से आरटीजीएस सुविधा (RTGS Facility) 24 घंटे के लिए 7 दिन उपलब्ध रहेगी। IFTAS, RBI और सर्विस पार्टनर को उन्होंने बधाई दी। जो ट्वीट उन्होंने किया था उसमें 12:30 AM के बजाय 12:30 PM लिखा गया था जिसे बाद में उन्होंने अगले ट्वीट में टाइपिंग की गलती बताई।

भारत हुआ गिने-चुने देशों में शामिल


आरबीआई द्वारा दिए गए इस सुविधा के बाद गिने-चुने देशों में भारत शामिल हो गया है जहां आरटीजीएस अब सातों दिन 24 घंटे के लिए उपलब्ध रहेगा। आपको बता दें कि रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया ने इसे उपलब्ध कराने के पहले नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (NEFT) को भी 24 घंटे के लिए उपलब्ध कराया था। यह कदम इसी साल उठाया गया था।

मॉनेटरी पॉलिसी में हुई घोषणा

RBI governor


भारतीय रिजर्व बैंक ने अपनी मॉनेटरी पॉलिसी की बैठक मैं कहा था कि आरटीजीएस को जल्द ही 24×7 फैसिलिटी के साथ उपलब्ध कराया जाएगा। ऐसा करने से अब ये छुट्टी के दिनों में भी काम करेगा।

होगी लेन-देन में बढ़त


उम्मीद जताई जा रही है कि इस सुविधा के उपलब्ध कराने से लेन-देन में बढ़त होगी। अगर बात की जाए सबसे ज्यादा सुविधा मिलने की तो इस सुविधा का सबसे ज्यादा फायदा बिजनेस करने वालों को होगा। उम्मीद तो यह भी की जा रही है कि इस कदम के साथ ही भारतीय वित्तीय बाजार में तेजी आएगी। क्रॉस बॉर्डर पेमेंट में भी इससे सुविधा होगी।

है ज्यादा लेनदेन के लिए

अधिक पैसों के लेनदेन के लिए आरटीजीएस सिस्टम का उपयोग किया जाता है। एक सभा में आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा था कि सुरक्षित तरीके से डिजिटल पेमेंट को बढ़ाने के लिए यूपीआई या कार्ड के जरिए किया जा सकने वाला लेनदेन बिना संपर्क किए की सीमा को एक जनवरी 2021 से ₹2000 से बढ़ाकर ₹5000 कर दिया जाएगा। भारत में डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए जुलाई 2019 से आरटीजीएस की सुविधा पर रिजर्व बैंक ने लेनदेन पर चार्ज लेना बंद कर दिया था।

NEFT है दो लाख के लिए


दो लाख रुपए तक के लेनदेन NEFT द्वारा किया जाता है। अगर हमें इससे ज्यादा का ट्रांसफर करना है तो हमें आरटीजीएस सिस्टम का उपयोग करना होगा। RTGS Facility में दो लाख रुपए से कम का ट्रांसफर नहीं होता है।

इसमें सबसे बड़ी बात यह है कि इसके लिए कोई भी एक्स्ट्रा चार्ज नहीं देना होता।

HIGHLIGHTS:

  • RTGS facility to be available for 24*7 basis.
  • RBI Governor Shaktikant Das gave this information through his tweet.
  • India comes into the list of those countries where this facility is available on this basis.
  • This would help the Indian Economy to boost up.
  • Cross Order Payment would be easier.
  • Customers can do their payments anytime in a much easier way.
  • RTGS is used for payments above 2 Lakhs INR.

For more details visit: https://www.rbi.org.in/

ALSO READ: COVID-19 Vaccine: फाइज़र वैक्सीन को अमेरिका ने दी मंजूरी

https://www.liveakhbar.in/2020/12/covid-19-vaccine-2.html

Avatar
Written By

Garima has knowledge about SEO and experience in content writing. Garima is passionate about content writing, video editing, website designing, and learning new skills. Content writing has always been there in her potential. Reach her at garima@liveakhbar.in

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May Also Like

Trending

After the recent news of Yes Bank, now RBI has imposed moratorium on Lakshmi Vilas Bank. The withdrawal are now capped at ₹25000 crore....

Trending

भारतीय अर्थव्यवस्था कोविद -19 महामारी से पहले भी अपने सबसे खराब मंदी वाले चरणों में से एक थी।  जीडीपी की वृद्धि आठ तिमाहियों के...

Release Dates

6 बैंकों को प्राइवेटाइज़ किया जायेगा ,सिर्फ 5 बैंक सरकार के अधीन होंगे Banking sector में संशोधन के रूप में भरतीय सरकारी बैंकों में...

Want updates of New Shows?    Yes No