Connect with us

Hi, what are you looking for?

Anime

दिल्ली में कोरोना मामले 5 लाख के पार, पिछले 24 घंटे में 131 मौतें, जानें दूसरे राज्यों की स्थिति

Corona cases crosses 5 lakhs in Delhi

नई दिल्ली। बुधवार को जहां दिल्ली में कोरोना के कुल मामलों ने 5 लाख का आंकड़ा पार किया वहीं उसी दिन पिछले 24 घंटो का कोरोना से मौतों का आंकड़ा 131 रहा। ये अब तक का दिल्ली में 24 घंटो में मौतों का सबसे ऊंचा आंकड़ा है। बुधवार को पिछले 24 घंटो में 5 लाख में से फ्रेश केसेस 7,486 रहे। इससे पहले 24 घंटो में सबसे ज्यादा मौतों का आंकड़ा 104 था, और ये 12 नवंबर को था।

एक्सपर्ट्स का कहना है कि जैसे – जैसे कोविड – 19 के मरीज़ बढ़ रहे हैं उसी के साथ मौतें भी बढ़ रही हैं। सिर्फ 15 दिन में दिल्ली में आखिरी के 1 लाख मामले बढ़े हैं। सभी शहरों की स्थिति देखी जाए तो दिल्ली की स्थिति काफी ख़राब है। मुंबई की अगर बात करे तो, मुंबई की आबादी भी दिल्ली जितनी ही है, और वहां के अभी तक के कोरोना मामले 2.7 लाख हैं। दिल्ली की तुलना में मुंबई में अभी तक 10,615 मौतें हुई हैं जबकि दिल्ली में कुल 7,943 मौतें हुई हैं।

सभी राज्य और केन्द्र शासित प्रदेशों में से महाराष्ट्र में अभी तक सबसे ज्यादा 16.3 लाख कोविड मामले सामने आए हैं। आंध्र प्रदेश में 8.6 लाख, कर्नाटक में 8.3 लाख, तमिल नाडू में 7.4 लाख, केरल में 5.4 लाख और उत्तर प्रदेश में 5.2 लाख कुल मामले रिकॉर्ड किए गए हैं। दिल्ली 5 लाख कोविड मामले पार करने वाला सातवां प्रदेश है।

दिल्ली में बढ़ते कोरोना मामलों से स्वास्थ्य का बुनियादी ढांचा कमज़ोर पड़ रहा है साथ ही काफी मरीजों को बेड नहीं मिल पा रहे हैं।

Delhi corona app के अनुसार, जो दिल्ली में बेड की उपलब्धि का लाइव अपडेट प्रदान करती है, उसके अनुसार दिल्ली में इस समय 92% आईसीयू बेड वेंटीलेटर सपोर्ट के साथ और 82% आईसीयू बेड वेंटीलेटर सपोर्ट के बगैर, काम में लगे हुए हैं।

दिल्ली के कई बड़े हॉस्पिटल की बात करे तो, जैसे गुरु तेग बहादुर, अपोलो, दीन दयाल उपाध्याय, मैक्स, बीएलके और मणिपाल इनमे आईसीयू बेड उपलब्ध ही नहीं हैं। टॉप प्राइवेट हॉस्पिटल के एक सीनियर डॉक्टर का कहना है कि “हमें लगातार आईसीयू बेड के निवेदन मिल रहे हैं, लेकिन अभी बेड उपस्थित नहीं हैं।” दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जीटीबी हॉस्पिटल में कोरोना तत्परता की समीक्षा के लिए विजिट किया और साथ ही हॉस्पिटल के प्रबन्धन से आईसीयू बेड की ज़रूरत और अन्य सुविधाओं के बारे में भी विचार – विमर्श किया। बुधवार को कहा गया की दिल्ली सरकार द्वारा, आने वाले कुछ दिनों में 663 आईसीयू बेड्स सारे हॉस्पिटल में उपलब्ध कराए जायेंगे।

ये भी कहा गया है कि, इसके अतिरिक्त केन्द्र के साथ भी 750 आईसीयू बेड उपलब्ध कराए जायेंगे, तो लगभग 1400 आईसीयू बेड्स आने वाले कुछ दिनों में दिल्ली के हॉस्पिटल में बढ़ाए जायेंगे।

इस समय कोविड – 19 अपने शिखर पर माना जा रहा है साथ ही कहा जा रहा है कि जून और सितम्बर की तुलना में ये कोरोना की तीसरी लहर है। ये भी देखा जा रहा है और एक्सपर्ट्स का भी कहना है कि जिन लोगों को मधुमेह और मोटापे जैसी बीमारियां हैं उनकी कोरोना के कारण मौतें ज्यादा हो रही हैं। अधिकारियों का ये भी कहना है कि टेस्टिंग बढ़ चुकी हैं जिससे और ज़्यादा मामले सामने आए रहे हैं। बीते 24 घंटो में दिल्ली में 62,232 लोगों के कोरोना टेस्ट हुए हैं जिनमें से 7,486 पॉजिटिव पता चले हैं।

Avatar
Written By

Jaysi works as a co-author and content writer. Expertise in search engine optimization. Passionate about content writing and voice over. Feel free to contact her at jaysi@liveakhbar.in

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May Also Like

Release Dates

Uzma Fatima- Liveakhbar Desk भारतीय नागरिकता पाने के लिए ,पिछले दो सालों से लड़ने वाले बूढ़े चंद्रधर ने ,रविवार को रात्रि दस बजे लिया...

Anime

नई दिल्ली। जैसे – जैसे किसानों का विरोध प्रदर्शन आगे बढ़ रहा है। वैसे – वैसे स्थिति ख़राब होती जा रही है। आज यानी...

Anime

Delhi minimum temperature 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे दिल्ली का न्यूनतम तापमान रहा है। इससे मंगलवार सुबह दृश्यता प्रभावित देखने को मिला है और...

Anime

हज़ारों की तादाद में किसान एक जुट हो चुके हैं। 26 नवंबर से लगातार किसान, सरकार द्वारा जारी किए गए तीन कृषि विधेयकों के...

Anime

जैसे कि खबर है कि आगरा में मेट्रो शुरू करने के लिए जल्द ही नीव रखी जाएगी। बताया जा रहा है कि आगरा की...

Anime

Which challenges will be faced after getting the finals to the vaccine वैक्सीन को फाइनल अप्रूवल मिलने के बाद कौन-कौन सी चुनौतियों का करना...

Want updates of New Shows?    Yes No