January 27, 2021

Live Akhbar

Pop Culture Hub

रिलीस हुई अक्षय की फ़िल्म लक्ष्मी, जानिए पूरे रिव्यू

Live Akhbar Desk:Asmita Dalke

आइये नज़र डालते है अक्षय कुमार की फ़िल्म लक्ष्मी पर जिसका पहले  नाम लक्ष्मी बम था ,जानिए पूरी समीक्षा

जानिए मूवी के अभिनेता व निर्देशको  को

राघव लौरवंस के द्वारा निर्देशित की गई फ़िल्म लक्ष्मी में अक्षय कुमार ,कियारा आडवाणी ,मनु ऋषि चड्डा,अश्विनी केलाशकर ,राजेश शर्मा ,आयेशा रज़ा मिश्रा, श्रद्धा केलकर जैसे अभिनेता और अभिनेत्रि थे ,आप सभी को यह जानकर बहुत आश्चर्य होगा कि फ़िल्म की रेटिंग 2.5 स्टार है ।मिशन मंगल,पैड मैन जैसी कई हिट फिल्में देने वाले अभिनेता अक्षय कुमार की यह सबसे लौ रेटिंग मूवी है ,इससे पहले 2013 में अक्षय की  फ़िल्म बॉस की रेटिंग सबसे कम थी।

जानिए फ़िल्म की कहानी संक्षिप  में

फ़िल्म में अक्षय ने आशिफ का किरदार किया है ,जो कि वैज्ञानिक व तर्क बुद्धि रखने वाला लड़का है ,मगर फिर उसकी जिंदगी में एक पड़ाव आता है जिसमे वो बिखर जाता है ,उसको अंदर के किन्नर की आत्मा आती है जो की उसको बहुत परेशान करती है शुरआत में खूब हास्य होता है मगर फ़िल्म के आगे बढ़ते बढ़ते फ़िल्म रहस्यमई बनती जाती है ।

दर्शको के द्वारा दिये गए रिव्यु

अक्षय की मूवी ने इस बार इतनी धूम नही मचाई है यह बात हम फ़िल्म की रेटिंग व मूवी को लेकर दी गई उनकी समीक्षा के माध्यम से जान सकते है ।
दर्शको का कहना है कि फ़िल्म लक्ष्मी की  कहानी  साउथ की फ़िल्म कंचना से मिलती जुलती है ,कंचना मूवी में आर सराठकुमार ने किन्नर का किरदार किया था।
फ़िल्म की असल शुरआत होती है जब अक्षय कुमार अपनी पत्नी कियारा आडवाणी के उनके माता पिता की 25वी शादी की सालगिरह के अवसर पर घर आते है ,मनु ऋषि फ़िल्म में कियारा के बड़े भाई का किरदार निभाते है और अश्विनी लाशकर मनु की पत्नी का किरदार अदा करती है ।अक्षय कुमार के मुस्लिम लड़के का किरदार निभाते है जिसका नाम आशिफ होता है और कियारा के घर वालो को आशिफ ओ�

कियारा आडवाणी के उनके माता पिता की 25वी शादी की सालगिरह के अवसर पर घर आते है ,मनु ऋषि फ़िल्म में कियारा के बड़े भाई का किरदार निभाते है और अश्विनी लाशकर मनु की पत्नी का किरदार अदा करती है ।अक्षय कुमार के मुस्लिम लड़के का किरदार निभाते है जिसका नाम आशिफ होता है और कियारा के घर वालो को आशिफ ओर कियारा का रिश्ता स्वीकार करने में बहुत परेशानी होती है ,मगर ये फ़िल्म का इतना महत्वपूर्ण हिस्सा नही है ,फ़िल्म का असली सस्पेंस अक्षय यानी आशिफ के अंदर किन्नर की आत्मा आने पर होता है ।
अक्षय ने किया जबरदस्त अभिनय

बात यदि अभिनय की हो तो फ़िल्म जबरदस्त अभिनय और रोमांच से परिपूर्ण है , चाहे बात हाव भाव की हो संवाद की हो या चाल चलन की अक्षय का अभिनय देखने लायक है।
फ़िल्म साउथ की फ़िल्म कंचना से है मिलती जुलती
फ़िल्म में काफी रोमांच व सस्पेंस देखने को मिलता है ,कुछ जगह ऐसा अभिनय हुआ है ही दर्शक देख कर मुग्ध हो गए ,और कही पर जमकर हास्य देखने को मिला जैसा कि साउथ की एक फ़िल्म कंचना में भी था।
फ़िल्म के अन्य अभीनेताओ की छोटी सी झलक
फ़िल्म में अक्षय का मुख्य किरदार था मगर इसके अलावा फिल्म में कियारा आडवाणी भी थी जिनकी इतनी ज्यादा भूमिका तो नही दिखाई दी मगर उनके शांत व सूक्ष्म चेहरे ने फ़िल्म में सुकून व शांति का एहसास कराया है ,इसके अलावा इसके अलावा श्रद्धा केलकर की एक्टिंग व उनका प्रभावी तरीके से ‘जाओ’ बोलना आपको हैरान कर देगा ।
बम भोले गाने ने जीत सबका दिल
बात यदि फ़िल्म के गीतों पर की जाए तो फ़िल्म के एक गाने “बेम भोले ” ने ऑडियंस का खूब दिल जीता , गाने में अक्षय का अलग ही अंदाज़ देखने को मिलाइस इसके अलावा बुर्जखलिफ ,बुस्मिल्ला जैसे गानों ने खूब धूम मचाई।


विवादों से घिरी थी फ़िल्म
रिलिज़ होने से पहले ही फ़िल्म पर कई सवाल उठाये गए थे ,फ़िल्म पर आरोप था कि फ़िल्म की कहानी लव ज़िहाद को बढ़ावा दे रही है ,क्योंकि मूवी में आशिफ की शादी प्रिय जो कि हिन्दू लड़की है उससे होती है ,इसके अलावा यह आरोप भी है की फ़िल्म के नाम मे लक्ष्मी बम लिखा गया है और लक्ष्मी हिन्दुओ में पूजनीय है इसके कारण मूवी के नाम मे में बम हटा कर केवल लक्ष्मी रखा गया ।