Connect with us

Hi, what are you looking for?

Pop Buzz

तनिष्क एक बार फिर आलोचना के घेरे में- #BoycottTanishq सोशल मीडिया पर चल पड़ा ट्रेंड

Brand Tanishq

विज्ञापन और आलोचना- एक अलग रिश्ता –

भारत में विज्ञापनों ने कई बार बड़े बड़े मामलों को जन्म दिया है।पीछले कई दशकों में यह देखा गया है कि विज्ञापन ने कई बार जाने अनजाने में एक समुदाय,या किसी संस्था या फिर कोई सामाजिक धरना पर चोट किया है जिससे लोगों में एक आक्रोश को जगह मिलती है जो कि कभी कभी भयावाह स्तिथि में भी तब्दील ही जाती है।इसके कारण कई जातिवादी और सामाजिकता पर गहरा असर भी पड़ता है।

तनिष्क के एक विज्ञापन ने लाई थी यह आलोचनातमक लहर-


इसी तरह हाल ही में  तनिष्क के एक विज्ञापन ने भी लोगो में आक्रोश की ज्वाला को जलाया।
विज्ञापन में एक गर्भवती हिंदू महिला और एक मुस्लिम  सांस  के बीच एक खुश और उल्लासपूर्ण बंधन को दिखाया गया है जो एक साथ  गोद भराई समारोह में जाते है  । जहा हिन्दू महिला अपनी सास से पूछती हुई दिखती है  कि “यह समारोह अपने घर पर आयोजित नहीं है.?”; जिस पर उसकी मुस्लिम सास जवाब देती है कि “यह एक परंपरा है  जो कि दर्शाता है कि बेटियां हर जगह खुश रखी जानी चाहिए.”जैसे ही इस विज्ञापन प्रकाशित किया गया था कई  लोगो ने उसे  अंतर विश्वास विवाह के आधार पर बहिष्कार किया और एक ही समय में धार्मिक भावनाओं को आहत करने का आरोप भी लगाया । इतना ही नहीं  कुछ ने यह भी सवाल किया कि हमेशा एक हिंदू महिलाएं क्यों होती हैं जो मुस्लिम परिवार में शादी करती हैं और यह दूसरी तरह का दौर क्यों नहीं है । कुछ हिंदू धार्मिक बुद्धिजीवियों की नजर में इस विज्ञापन ने लव जिहाद को भी बढ़ावा दिया जिसमें भगवान के नाम के तहत धर्मों और संस्कृतियों के जबरदस्ती परिवर्तन का प्रदर्शन किया गया जो वर्तमान के साथ-साथ भविष्य की पीढ़ियों के लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं है क्योंकि यह बहुत जल्दी सामाजिक गरिमा को तोड़ सकता है।

तनिष्क की ओर से बयान –


आलोचना एवम् भड़कते स्तिथि को देखते हुए तनिष्क ने अपने सभी सामाजिक माध्यम से उस वीडियो को हटा दिया जिसमें यूटयूब भी शामिल है जो यह भी दर्शाता है कि यह विज्ञापन काफी ही ज़्यादा संवेदनशील है।कंपनी के एक प्रवक्ता ने कहा, “इस फिल्म ने अपने उद्देश्य के विपरीत अलग और गंभीर प्रतिक्रियाओं को प्रेरित किया है ।एकात्वम  अभियान के पीछे विचार के लिए इन चुनौतीपूर्ण समय के दौरान जीवन के विभिंन क्षेत्रों, स्थानीय समुदायों और परिवारों से लोगों के एक साथ आने का जश्न मनाने और अपनेपन  की सुंदरता का जश्न मनाने के लिए है।”

फिर से विरोध के ज्वाला भड़क रही है;मिल रहा कई बॉलीवुड सितारों का समर्थन –

पिछले कुछ दिनों से # सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रही है, जिसमें समाज के विभिन्न वर्ग इसे ‘ प्रमोट ‘ करने के लिए बुला रहे हैं ।इसके अतिरिक्त, इस तरह के रूप में हस्तियों गाड़ी में सवार में शामिल हो गए है और विज्ञापन के रूप में के रूप में अच्छी तरह से पूरे ब्रांड की आलोचना की ।
अपने एक ट्वीट में कंगना रनौत ने कहा कि –
यह विज्ञापन कई स्तरों पर गलत है, हिंदू बहू महत्वपूर्ण समय के लिए परिवार के साथ रह रही है लेकिन स्वीकृति तभी होती है जब वह अपने वारिस को ले जा रही होती है ।तो वह सिर्फ अंडाशय का एक सेट क्या है? यह विज्ञापन न केवल लव-जिहाद को बढ़ावा देता है बल्कि सेक्सिज्म भी #tanishq
हालांकि इंटरनेट के एक गुट ने इस विज्ञापन को पूर्ण समर्थन भी किया और इससे एक सही कदम भी कहकर सराहा जो एकता एवम् धर्मनिरपेक्षता को दर्शाता है और एक निष्पक्ष भक्ति को दिखा रहा है।

Advertisement. Scroll to continue reading.
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May Also Like

Web Shows

भारतीय वायु सेना (IAF) के आक्रामक शस्त्रागार को बढ़ावा देने वाले एक कदम में, भारतीय सशस्त्र बलों की हवाई शाखा को बुधवार शाम तक तीन और...

DMCA.com Protection Status