Halloween 2020 : तारीख ,इतिहास और इस त्यौहार का महत्व

Halloween 2020

Sweety Jain- Liveakhbar Desk

हेलोवीन हर साल 31 अक्टूबर को मनाया जाता है | यह यूरोप देशों में मनाया जाने वाला एक फेस्टिवल है | इस त्योहार पर घर के बड़े पूर्वजों की आत्मा शांति के लिए प्रार्थना करते हैं | इस दिन बच्चे घर घर जाकर ” हैप्पी हेलोवीन ” की बधाई देते हैं और मिठा जैसे चॉकलेटस लेते हैं | त्योहार को मनाने का तरीका थोड़ा अलग है , जहां दूसरे त्योहारों पर लोग नये कपड़े पहनते हैं वहीं इस त्यौहार पर लोग डरावने रूप लेते हैं | विदेश में यह त्योहार धूमधाम से मनाया जाता है , वहीं भारत में भी यूथ के बीच में काफी मशहूर हो रहा है और अब भारत मैं भी इसे धूमधाम से मनाते हैं |

हेलोवीन हर साल 31 अक्टूबर को मनाया जाता है | यह यूरोप देशों में मनाया जाने वाला एक फेस्टिवल है | इस त्योहार पर घर के बड़े पूर्वजों की आत्मा शांति के लिए प्रार्थना करते हैं | इस दिन बच्चे घर घर जाकर ” हैप्पी हेलोवीन ” की बधाई देते हैं और मिठा जैसे चॉकलेटस लेते हैं | त्योहार को मनाने का तरीका थोड़ा अलग है , जहां दूसरे त्योहारों पर लोग नये कपड़े पहनते हैं वहीं इस त्यौहार पर लोग डरावने रूप लेते हैं | विदेश में यह त्योहार धूमधाम से मनाया जाता है , वहीं भारत में भी यूथ के बीच में काफी मशहूर हो रहा है और अब भारत मैं भी इसे धूमधाम से मनाते हैं |

Halloween 2020: इतिहास

Halloween 2020
Halloween 2020

हेलोवीन का इतिहास हेलोवीन एक प्राचीन शब्द है | इससे सेंट्स के लिए प्रयोग किया गया था यह सेंट्स के लिए नया वर्ष माना जाता था | परंतु चौथी सेंचुरी के दौरान शहीदों की याद में यह त्योहार मई-जून की शुरुआत में मनाया जाता था आठवीं सदी में पॉप क्रगौर द खर्ड इसे 1 नवंबर को बनाने की शुरुआत की थी | समय आगे बढ़ा और 16वीं सदी के रिफॉर्मेशन के बाद इंग्लैंड में उसे पूरी तरह से भुला दिया गया परंतु स्कॉटलैंड और आयरलैंड में काफी प्रचलित था माना जाता है , कि स्प्रिचुअल दुनिया और हमारी दुनिया के बीच की दीवार काफी कमजोर हो जाती है | इससे भटकी हुई आत्मा पृथ्वी पर आ जाती हैं |

गैलिक परंपरा को मानने वाले लोग 1 नवंबर को अपना नया साल मानते हैं | परंतु इस दिन के ठीक 1 दिन पहले यानी 31 अक्टूबर की रात को हेलोवीन त्यौहार मनाया जाता है |

Halloween 2020: हेलोवीन की महत्वता –

Halloween 2020
Halloween 2020

अक्टूबर महिनें के अंत के साथ सर्दियों के मौसम की शुरुआत होती है , और वातावरण गर्मी लाने के लिए लोग इस त्योहार को मनाते हैं | इस त्यौहार में रोशनी और मोमबत्ती के साथ तापमान गर्म रहता है लोग अच्छी आत्मा का साथ और बुरी आत्मा से डरने के लिए हिलटॉप्स पर अलाव जलाते हैं | यह त्योहार बच्चों में बहुत ही लोकप्रिय हैं |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *