Pop Culture Hub

Web Shows

अमेरिका:पिछले दो दिनों में कोविड-19 के मामले रेकॉर्ड तोड़, बढ़ रहा मौतों का स्तर

Live Akhbar Desk-Garima

संयुक्त राष्ट्र अमेरिका ने कोविड-19 की काफी मार झेली है। वर्तमान समय में भी कोरोना वायरस का असर अमेरिका पर देखा जा सकता है। शनिवार और रविवार, इन 2 दिनों में अमेरिका में रिकॉर्ड नए मामलों की पुष्टि हुई है और साथ ही 2 महीने से उच्च स्तर पर मौतें भी हो रही हैं। 79,852 लोगों के कोरोना संक्रमित होने का यह आंकड़ा शनिवार को सामने आया वहीं कल नए संक्रमित लोगों की संख्या 84,244 थी।

29 राज्य में नए मामले
जहां कोरोना महामारी शीर्ष चुनावी मुद्दों पर खड़ा उतरा है वहीं दूसरी ओर यह संक्रमण बढ़ता ही चला जा रहा है। अमेरिका के उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने संक्रमण रहते हुए भी देशभर में यात्रा की जिसका खामियाजा आज वहां की आम जनता भुगत रही है। नए मामलों में वृद्धि के साथ-साथ अस्पताल में भर्ती हो रहे मरीजों की संख्या में भी बढ़ोतरी देखने को मिल रही है।
अक्टूबर महीने तक 29 राज्यों ने नए कोविड-19 के मामलों में वृद्धि के लिए रिकॉर्ड बनाए हैं जिनमें राष्ट्रपति चुनाव महत्वपूर्ण माने गए हैं। 5 नवंबर को हुए चुनाव में ओहियो, मिशीगन, उत्तरी कैरोलिना, पेंसिलवेनिया और विस्काॅन्सिन शामिल है।

अस्पतालों में तनाव
अमेरिका के कई जगहों में लगातार हो रहे इस बढ़ोतरी के कारण अस्पतालों की हालत पस्त है। मिडवेस्ट में शनिवार को एक नया रिकॉर्ड बना और उसी क्षेत्र में कोविड-19 के रोगियों की संख्या जो हॉस्पिटललाइस्ड हैं, नौवें दिन लगातार उच्च स्तर पर देखा गया। राइटर्स द्वारा विश्लेषण के मुताबिक उत्तर डकोटा सहित कई राज्यों में अस्पतालों की हालत सही नहीं है जो नए मामलों के लिए अच्छी खबर नहीं है। एल पासो क्षेत्र में पिछले 3 हफ्तों में एक नया रिकॉर्ड बना। उस शहर के पब्लिक हेल्थ डायरेक्टर एंजेला मोरा ने अपने बयान में कहा है कि लगातार परिश्रम कर रहे स्वास्थ्य कर्मियों के लिए सभी लोग 2 सप्ताह तक घर पर रहे और अपने घर के बाहर के लोगों के साथ बातचीत फिलहाल खत्म करें जिससे हालत सुधरे और नियंत्रण में आ सके।
50 बेड के साथ एक वैकल्पिक देखभाल साइट खोला जाएगा जो राज्य के आपातकालीन प्रबंधन अधिकारी द्वारा इस सप्ताह में पूर्ण होगा।

हुई थी नजरअंदाजी
जब पूरी दुनिया में इस महामारी से लड़ रही थी तो अमेरिका ने इन सबके बावजूद लॉकडाउन लगाने में देरी की थी। लापरवाही नहीं बरती गई और इसी वजह से शुरू से लेकर अभी तक अमेरिका इससे उबरने में सफल नहीं हो पा रहा है। चुनाव तो होने हैं लेकिन चुनाव प्रचार के दौरान भी सावधानी नहीं बरती जा रही हैं।

संक्रमित हो चुके हैं ट्रंप
कोरोनावायरस के संक्रमण से खुद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी नहीं बच पाए जहां वे आम लोगों को हिदायतें देते थे वही वह खुद कुछ दिनों पहले संक्रमित हो गए थे। उन्होंने अमेरिका के जनता को कहा था कि मास्क लगाने से कुछ भी असर नहीं होता। फिलहाल डॉनल्ड ट्रंप और उनके विरोधी जो बिडेन दोनों ही चुनावी माहौल में व्यस्त हैं और अपनी रैलियों के दौरान कई ऐसे लापरवाही देखने को मिले हैं जिसने लोगों को कोरोना संक्रमण के चपेट में ला दिया।

कैलिफोर्निया पहले स्थान पर
कोरोना वायरस ने अपना कहर बरपाते हुए कैलिफ़ोर्निया में कुल संक्रमितों की संख्या 9,07,436 कर दी है और 17,357 लोगों की मौत हो चुकी है। न्यूयॉर्क शहर में मरने वालों का आंकड़ा 32,565 है और 5,31,648 लोग संक्रमित हो चुके हैं। अमेरिका की सैन फ्रांसिस्को में जहां 16,993 लोगों ने अपनी जान गवाई है वही कुल संक्रमण का आंकड़ा 2,99,760 है।

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *