Connect with us

Hi, what are you looking for?

Uncateogarised

लॉक डाउन के 7 महीने: 90% रिकवरी, 10 करोड़ टेस्ट, जानें क्या है देश का हाल

corona update india

Garima- Liveakhbar Desk

आज के ही दिन 7 महीने पूर्व लॉकडाउन के कारण देश को कई संकटों का सामना करना पड़ा था। मार्च महीने के 25 तारीख को लगे इस लॉकडाउन ने अर्थव्यवस्था को तगड़ा झटका तो दिया था लेकिन इसने कई भारतीयों की जिंदगी बचाने का काम भी बखूबी किया है।क्या-क्या परिवर्तन आए हैं हमारे देश में इन 7 महीनों में, क्या है कोरोना की स्थिति, कहां तक हम सफल हुए हैं और कितना अनलॉक हुआ है भारत, आइए जानते हैं।

90% रिकवरी दर

कोरोना महामारी के शुरुआती महीनों में रिकवरी दर 10-15 फ़ीसदी के आसपास थी परंतु जून महीने से रिकवरी दर तेजी से बढ़ने लगी और अब नतीजा यह है कि भारत में रिकवरी दर 90% को पार कर गई है जो कि हमारे लिए बहुत ही बड़ी उपलब्धि है l स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों में 62,077 रोगी स्वस्थ हुए हैं और कुल स्वस्थ होने वालों की संख्या बढ़कर 70,78,123 हो गई है स्वस्थ होने वाले मरीजों में भारत अब दुनिया में पहले पायदान पर है।

कोविड मरीजों व मृत्यु दर में लगातार गिरावट

देश में जहां पहले रोज़ 80-90 हजार कोरोना के मामले आते थे वहीं अब इनकी संख्या में भी भारी गिरावट देखी गई है । स्वास्थ मंत्रालय की मानें तो भारत में पिछले 24 घंटे में 50,129 नए मामले दर्ज किए गए हैं जिनके साथ ही कुल मरीजों की संख्या 78,64,811 पहुंच गई है। इनमें से सक्रिय मामले 6,68,154 हैं जो पिछले दिन के मुकाबले 12,526 कम है। अब कुल मामलों में केवल 8.50% ही सक्रिय हैं।

मृत्यु दर की बात करें तो यह 1.51% है और यह लगातार घट रही है। पिछले 24 घंटों में 578 लोगों ने कोरोना से अपनी जानें गवाईं जिससे कुल मौतों की संख्या बढ़कर 1,18,534 हो गई है।

10 करोड़ टेस्ट

जी हां! भारत में अब तक कोविड-19 के 10 करोड़ से ज्यादा टेस्ट हो चुके हैं। पिछले 24 घंटों में 11,40,905 कोरोना टेस्ट हुए हैं जिससे कुल टेस्ट की संख्या बढ़कर 10,25,23,469 हो गई है। भारत में जहां पहले केवल पुणे की एक लैब में कोरोना के टेस्ट होते थे वहीं अब देशभर के 2,003 लैब्स में हो रहे हैं जिनमें से 1,126 सरकारी और 877 निजी हैं।

कोरोना का पीक, पॉजिटिविटी रेट में गिरावट

विशेषज्ञों के अनुसार सितंबर माह में ही भारत में कोरोना का पीक आ गया था और हम देख सकते हैं कि इसी के बाद भारत में कोरोना के मामलों में भारी गिरावट दर्ज की गई। इसी के साथ ही पॉजिटिविटी रेट भी 5% के नीचे आ गया है यानी भारत में अब हर 100 टेस्ट पर 5 से कम संक्रमित मिल रहे हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन की मानें तो जहां पर पॉजिटिविटी रेट 5% के नीचे होता है वहां पर महामारी नियंत्रण में होती है।

राज्यों की स्थिति

महाराष्ट्र कोरोना मामलों की सूची में अव्वल है। इस राज्य में कुल मामले 16,38,961 सामने आ चुके हैं जिनमें से 14,55,107 रोगी स्वस्थ हो चुके हैं और 43152 रोगी कोरोना को मात नहीं दे सके। दूसरे स्थान पर आंध्र प्रदेश है जहां कुल मामले 8,04,026 है। इसके अलावा केरल, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, तमिलनाडु में भी मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। कुछ राज्यों की स्थिति पहले से सुधरी है जिनमें राजस्थान, पंजाब, बिहार, गुजरात, झारखंड, शामिल है।
राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की कोरोना की स्थिति जानने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें। https://mygov.in/corona-data/covid19-statewise-status/

Advertisement. Scroll to continue reading.

वैक्सीन से कितने दूर हम?

भारत में भी अनेक वैक्सीन पर काम चल रहा है। भारत की सिरम इंस्टीट्यूट एस्ट्रेजनेका से संधि कर ऑक्सफोर्ड की कोरोना वैक्सीन का दूसरे और तीसरे चरण का मानव परीक्षण कर रही है। भारत बायोटेक और आईसीएमआर द्वारा मिलकर विकसित की जा रही कोवैक्सीन को तीसरे चरण के परीक्षण की अनुमति मिल गई है। इसके अलावा ज़ाइडस कैडिला लिमिटेड भी दूसरे चरण का परीक्षण कर रही है। उम्मीद है हम जल्दी वैक्सीन प्राप्त कर लेंगे।

अनलॉक भारत

भारत लॉकडाउन नहीं अनलॉक की ओर बढ़ रहा है। असल मायने में जून महीने से शुरू हुआ अनलॉक 1.0 से होते हुए भारत अब अनलॉक 5.0 में है। अब सारी आर्थिक, सामाजिक, धार्मिक, सांस्कृतिक गतिविधियां को मंजूरी दे दी गई है परंतु सावधानियों के साथ। दुकाने कारखाने, सलून, मॉल, पार्क, थिएटर, स्विमिंग पूल, आदि अपनी सेवाएं दे भारत की अर्थव्यवस्था को फिर से और मजबूती के साथ खड़ा करने में अहम भूमिका निभा रहे हैं।

Avatar
Written By

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May Also Like

Editors choice

अमेरिका में फाइजर के COVID-19 Vaccine को मंजूरी देने के लिए पहले से ही दबाव था। इसे मंजूरी देने के लिए अमेरिका की फूड...

Anime

Which challenges will be faced after getting the finals to the vaccine वैक्सीन को फाइनल अप्रूवल मिलने के बाद कौन-कौन सी चुनौतियों का करना...

Uncateogarised

ASMITA – LIVEAKHBAR DESK घर से बाहर जाते वक़्त मास्क ना लगाना न ही केवल आपकी सेहत को प्रभावित करेगा मगर अब आपकी जेब...