January 23, 2021

Live Akhbar

Pop Culture Hub

DU Cutoff 2020 : दिल्ली विश्वविद्यालय का दूसरा कटऑफ लिस्ट जल्द ही, आरक्षित वर्गों को अधिक मौके

Liveakhbar Desk- Garima

दिल्ली विश्वविद्यालय ने अपना दूसरा कटऑफ सभी वर्गों में मामूली कमी के साथ जारी करने का निर्णय लिया है। हाल ही में डीयू में पहली कटऑफ के दाखिले समाप्त हो चुके हैं। ज्यादातर कॉलेजों में सामान्य वर्ग के लिए सीटें भर चुकी हैं और कई कॉलेजों में तो सामान्य से अधिक सीटों पर दाखिला हुआ है। इसी कारण ऐसा निर्णय लिया गया है। अधिकतर कॉलेजों के प्रिंसिपल का कहना है कि जहां एक ओर प्रमुख विषयों में सामान्य वर्ग में दाखिले के मौके कम हैं लेकिन वहीं दूसरी तरफ आरक्षित वर्ग में काफी सीटें अब भी खाली हैं।

कितना फीसदी होगा कम:


कटऑफ में कमी बहुत अधिक नहीं होगी। डीयू हिंदू कॉलेज की प्रिंसिपल डॉ अंजू श्रीवास्तव ने बताया कि लगभग 700 सीटों पर दाखिला की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। कट ऑफ के लिए कितनी कमी की जाएगी यह 16 अक्टूबर की शाम को तय किया गया है। महाराज अग्रसेन कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ संजीव तिवारी का भी यही कहना है कि हमारे यहां भी सामान्य वर्ग में अधिकांश विषयों के दाखिले की प्रक्रिया पूर्ण हो चुकी है। सूत्रों की मानें तो आरक्षित वर्गों के लिए 2 फ़ीसदी तक कटऑफ में कमी की जा सकती है।


अन्य प्रधानाध्यापकों का कहना:


मिरांडा हाउस कॉलेज की प्रिंसिपल डॉ बिजयालक्ष्मी नंदा का कहना यह है कि उनके यहां 0.25 फ़ीसदी ही कट ऑफ गिरने की संभावना है। हालांकि 16 अक्टूबर तक फीस जमा करने की आखिरी तिथि थी इसलिए इस पर उसके बाद ही निर्णय होगा। लक्ष्मीबाई कॉलेज के प्रिंसिपल डॉक्टर प्रत्युष वत्सला ने बताया कि इतिहास, दर्शन शास्त्र और मनोविज्ञान जैसे विषयों में अधिकांश कॉलेजों की तरह ही सीटें लगभग भर चुकी हैं। 6 से 7 छात्रों द्वारा फीस जमा करने की प्रक्रिया अभी भी अंतिम चरण में है। 13 सीटें जो बीए प्रोग्राम इंग्लिश की है, उनमें से कोई खाली नहीं है। साथ ही ऐसा पहली बार हुआ जब इतने कम समय में सीटें भर गई हैं। जितने आवेदन प्राप्त हुए हैं यदि उसमें विद्यार्थियों ने फीस भर दी तो हमें लगता है कि दोबारा कटऑफ जारी करने की स्थिति नहीं आएगी लेकिन अगर ऐसा हुआ तो ज्यादा कटौती नहीं की जाएगी।

डीयू का पहला कटऑफ:


शैक्षणिक सत्र 2020-21 में एडमिशन के लिए दिल्ली यूनिवर्सिटी ने पहले कट ऑफ लिस्ट जारी किया था जिसमें 3 कोर्स इसके लिए यह 100 फ़ीसदी तक चला गया था। पिछले साल के मुकाबले इकोनॉमिक्स और कॉमर्स में कटऑफ ज्यादा गया था। विभिन्न कॉलेजों के अलग कट ऑफ थे। लेडी श्रीराम कॉलेज में बीए ऑनर्स इकोनॉमिक्स, बीए ऑनर्स पॉलीटिकल साइंस, बीए ऑनर्स साइकोलॉजी के लिए 100 फ़ीसदी कट ऑफ था।

इस साल डीयू में करीब साढे़ तीन लाख से ज्यादा विद्यार्थियों ने तकरीबन 70000 सीटों के लिए आवेदन किया है और इनमें से कई ज्यादातर सीबीएसई बोर्ड के हैं।