January 21, 2021

Live Akhbar

Pop Culture Hub

corona deaths India

कोरोना से मरने वालो में 69% पुरुष, 90% की आयु 40 से ऊपर

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, भारत में पुरुषों में कोरोनोवायरस बीमारी से महिलाओं के मुताबिक दुगनी मौते हुई है। देश मे जितनी भी मौते हो रही है उसमें 69% पुरूष है, यानी महिलाओं से दोगुनी। मरने वालों में 90% से अधिक पुरुष और महिलाएं, दोनों की उम्र 40 वर्ष से अधिक थी।

22 अगस्त तक राज्य भर में 56,292 कोविड -19 से मरे थे। इनमें से आधे से अधिक 50 -70 आयु वर्ग में थे, दोनों लिंगों में कोविड -19 की मृत्यु 61-70 वर्ष आयु वर्ग में सबसे अधिक है।

31% महिलाएं

कोविड-19 से मरने वालो में तीन व्यक्तियों में से एक महिला होती है। 22 अगस्त तक, महिलाओं ने कुल कोविड -19 के 56,292 टोल में से 17,315 का हिसाब दिया। महामारी ने अगस्त के तीसरे सप्ताह तक 38,973 पुरुषों की जान ले ली थी।

मौतों पर असंबंधित डेटा पुन: पुष्टि करता है कि वैज्ञानिकों ने इस बीमारी के वैश्विक घातक रुझानों के बारे में क्या देखा है – यह पुरुषों के लिए, और जो अधिक उम्र के हैं, के लिए बिल्कुल घातक है।

वर्ग आयु से भी पड़ रहा फर्क

महिलाओं के बीच मौतें लगभग सभी कोविड की मृत्यु का एक तिहाई है, एकमात्र विसंगति यह है कि मृत्यु दर लगभग 20 वर्ष और उससे कम आयु की लड़कियों और लड़कों में समान है। 11-20 आयु वर्ग में 599 कोविड- 19 की मृत्यु में लड़कियों का 49% हिस्सा था।

10 साल से कम उम्र के बच्चों में कोविड-19 की मृत्यु की संभावना सबसे कम है।

90 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों में 301 कोविड-19 मौतें हुईं, जो कुल मौतों का 0.5% हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन के जून के आंकड़ों के अनुसार, यह वैश्विक औसत की तुलना में बहुत कम है, जहां 85 वर्ष से अधिक उम्र के लोग 3.4% मौतों का कारण हैं।

वैश्विक कोविड की मृत्यु दर 3.3% है।