मुन्नार लैंड्सलिप -चार की मौत ,हज़ारों लोग खतरे में

मुन्नार लैंडलसलिप हादसा- हज़ारों की तादाद में फंसे लोग

राजस्व मंत्री ई चंद्रशेखरन के अनुसार, शुक्रवार तड़के भारी बारिश के बाद इडुक्की जिले के मुन्नार के राजामला में एक भूस्खलन में कम से कम चार लोगों के मारे जाने की आशंका थी।

चंद्रशेखरन ने इराविकुलम में राजस्व अधिकारियों के हवाले से यहां संवाददाताओं से कहा कि स्थानीय स्वयंसेवकों ने गिरी हुई पहाड़ी के नीचे से कम से कम तीन व्यक्तियों को बचाया था। उन्होंने कहा कि अधिक व्यक्ति स्लश के अंदर फंस सकते हैं।

पीड़ित लोग चाय बागान के मजदूर थे जो टाटा टी कंपनी के स्वामित्व वाली विशाल संपत्ति के अंदर बैरकों के सदृश थे। उन्होंने कहा कि प्रारंभिक सूचना से पता चलता है कि पृथ्वी पर लोगों का एक समूह गिर गया था जब वे लगभग 4.30 बजे सो रहे थे। वृक्षारोपण में टाटा अस्पताल कई परिवारों का इलाज कर रहा था।

सरकार ने अधिक हताहतों के लिए खुद को रखा है। जिला प्रशासन ने स्थानीय अस्पतालों को स्टैंड पर रखा था।

मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन के कार्यालय ने कहा कि राष्ट्रीय आपदा राहत बल की एक इकाई इडुक्की से घटनास्थल पर पहुंच गई है।

एनडीआरएफ ने एक भूकंप और बचाव कार्य शुरू किया है। पुलिस, वन, आग और बचाव और राजस्व विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं।एक अधिकारी ने कहा कि टीमों को आपदा स्थल पर आने के लिए बाढ़ वाली सड़कों, गिरे हुए पेड़ों और बिजली की लाइनों पर बातचीत करनी पड़ी।

अग्निशमन और बचाव और स्वास्थ्य अधिकारियों की 50 सदस्यीय टीम एर्नाकुलम से मुन्नार के लिए रवाना हो गई है।

सुदूर इलाके में मोबाइल फोन की कनेक्टिविटी खराब थी। नीचे की ओर तीव्र होती रही। संचार नेटवर्क का विस्तार करने के लिए पुलिस ने मोबाइल वायरलेस रिपीटर स्टेशन स्थापित किए हैं।

सीएमओ ने भारतीय वायु सेना की मदद के लिए पीड़ितों और हवाई अड्डों के सर्वेक्षण का अनुरोध किया है। जरूरत पड़ने पर भारतीय वायुसेना राहत और बचाव सामग्री और भोजन, पानी और दवा के पैकेट भी इलाके में पहुंचाएगी। हेलीकॉप्टर को कोच्चि से तैनात किए जाने की संभावना है।

भारतीय मौसम विभाग ने इडुक्की को मौसम विभाग के पूर्वानुमान के बाद रेड अलर्ट के तहत रखा था कि अगले दो दिनों तक जिले में भारी बारिश होगी।

1 thought on “मुन्नार लैंड्सलिप -चार की मौत ,हज़ारों लोग खतरे में

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *