January 22, 2021

Live Akhbar

Pop Culture Hub

PM modi red fort speech

‘साधारण से दूर जाने का समय’: PM मोदी के भाषण में दिल को छू गयी यह प्रेरक बातें

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर एक लंबा भाषण दिया, जो अतीत की प्रशंसा और भविष्य की आकांक्षाओं से भरा था। न केवल प्रधान मंत्री ने भारत के अनसुने नायकों का सम्मान किया, बल्कि एक आधुनिक भारत के अपने दृष्टिकोण को भी स्थापित किया, जो शक्तिशाली, आत्मनिर्भर और एक ताकत है।

PM मोदी का भाषण प्रेरणादायक था, जिसने लाखों भारतीयों को उत्साहित किया, उन्हें देश को और अधिक ऊंचाइयों पर ले जाने का संकल्प दिलाया।

यहां देखिए उनके भाषण से प्रधानमंत्री के सबसे प्रेरणादायक उद्धरण:

1.भारत की संप्रभुता का सम्मान हमारे लिए सर्वोच्च है। इस संकल्प के लिए हमारे बहादुर सैनिक क्या कर सकते हैं, देश क्या कर सकता है, दुनिया ने लद्दाख में देखा है।

2. कोविड -19 महामारी में, 130 करोड़ भारतीयों ने आत्मानिभर भारत बनाने का संकल्प लिया है। मुझे पूरा विश्वास है कि भारत इस सपने को साकार करेगा। मुझे अपने साथी भारतीयों की क्षमताओं, आत्मविश्वास और क्षमता पर भरोसा है। एक बार जब हम कुछ करने का निर्णय लेते हैं, तब तक हम आराम नहीं करते हैं जब तक कि हम उस लक्ष्य को प्राप्त नहीं कर लेते।

3. अब भारत के लिए नई नीतियों और नए रीति-रिवाजों के साथ आगे बढ़ने का समय आ गया है। अब साधारण और साधारण काम नहीं करेगा। हमारी नीतियां, हमारी प्रक्रियाएं, हमारे उत्पाद, सब कुछ सबसे अच्छा होना चाहिए।

4. भारत के मध्य वर्ग से बाहर आने वाले पेशेवर भारत में ही नहीं पूरी दुनिया में अपनी पहचान बनाते हैं। मध्यम वर्ग को अवसर चाहिए, मध्यम वर्ग को सरकारी हस्तक्षेप से आजादी चाहिए।

 5. कब तक हम कच्चे माल को निर्यात करते हुए और आयातित उत्पाद के रूप में हमारे देश में वापस आते हुए देखेंगे? मुक्त भारत की मानसिकता ‘स्थानीय के लिए मुखर’ होनी चाहिए। हमें अपने स्थानीय उत्पादों की सराहना करनी चाहिए, यदि हम ऐसा नहीं करते हैं तो हमारे उत्पादों को बेहतर करने का अवसर नहीं मिलेगा और उन्हें प्रोत्साहन नहीं मिलेगा।


हमारा अनुभव कहता है कि जब भी भारत में नारी शक्ति का अवसर आया है, उन्होंने देश के लिए लाए हैं, देश को मजबूत किया है। भूमिगत कोयला खदानों से लेकर फ्लाइंग फाइटर जेट तक हर जगह महिलाएं हैं।