January 24, 2021

Live Akhbar

Pop Culture Hub

Jharkhand education minister registered for class 11

झारखंड शिक्षा मंत्री, 53 साल, 11वी क्लास में लिया एडमिशन

सच ही कहा है, सीखने और पढ़ने की कोई उम्र सीमा नही होती।

झारखंड मानव संसाधन विकास (एचआरडी) मंत्री जगरनाथ महतो, 53 वर्षीय मंत्री ने बोकारो जिले के देवी महतो इंटर कॉलेज में अपना आवेदन दायर किया है। उन्होंने 25 साल बाद अपनी शिक्षा को फिर से शुरू करने का फैसला किया है।

गिरिडीह जिले से चुनाव लड़ने वाले और झारखंड के शिक्षा मंत्री जगनरनाथ महतो ने अपनी पढ़ाई पूरी करने हेतु आर्ट्स स्ट्रीम का चुनाव किया है।

उन्होंने कहा, “मैं राजनीति के क्षेत्र में हूँ, और अपनी आर्ट्स स्ट्रीम में राजनीति विज्ञान यानी पॉलिटिक्स विषय का चुनाव ज़रूर करूंगा। बाकी अन्य विषयों का चयन में बहुत ही जल्द कर लूंगा।”

आपको बता दे कि 1995 में झारखंड के शिक्षा मंत्री ने अपनी कक्षा 10वी की परीक्षा यानी मैट्रिक की परीक्षा दी थी। जब से उन्हें झारखंड के मानव संसाधन विकास मंत्री के रूप में नियुक्त किया गया था, तब से उन्हें आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा था, आम लोगों के साथ-साथ निर्वाचित सदस्यों के एक वर्ग से।

बाद में, उन्होंने अपनी शिक्षा को फिर से शुरू करने का फैसला किया।

“मुझे राजनीति में आने के बाद लगातार लोगो से आलोचना मिली है कि मैं शिक्षा मंत्री हूँ और मैंने खुद अपनी पढ़ाई पूरी नही की है। और इसी आलोचना ने मुझे अपनी शिक्षा पूरी करने के लिए प्रेरित किया गया है। जब से मुझे झारखंड का शिक्षा मंत्री बनाया गया, तब से लोगों का एक वर्ग मेरी शैक्षणिक योग्यता पर आक्रामक रहा है। फिर, मैंने अपनी पढ़ाई फिरसे शुरुआत करने का फैसला किया।”

शिक्षा के साथ कैसे संभालेंगे मंत्री पद?

इस बारे में पूछे जाने पर कि वह मंत्रालय और नियमित कक्षाओं के बीच संतुलन कैसे बनाएंगे, उन्होंने एचटी से कहा, “मुझे पहले प्रवेश लेने दें, मैंने आज ही प्रवेश के लिए आवेदन किया है। यदि मेरा आवेदन नियमों के तहत आता है, तो मुझे प्रवेश मिलेगा। इसके बाद, मैं एक संतुलन बनाने के बारे में सोचूंगा।

” झारखंड मंत्रालय में जगरनाथ ही ऐसे मंत्री नही है, जिनके पास सिर्फ 10वी तक की योग्यता है। झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता, परिवहन मंत्री चंपई सोरेन, समाज कल्याण मंत्री जोबा मांझी, और श्रम मंत्री सत्यानंद भोक्ता ने भी अपने शपथ पत्र में कक्षा 10 पास करने के लिए अपनी शिक्षा योग्यता घोषित की है।