सोनू पंजाबन चलाती थी देश का सबसे बड़ा सेक्स रैकेट, हुआ 24 साल का कारावास

अपहरण, मानव तस्करी और सेक्स रैकेट में शामिल होने के आरोप में गीता अरोड़ा उर्फ ​​सोनू पंजाबन को दिल्ली की द्वारका अदालत ने 24 साल के लिए जेल की सजा सुनाई है।

Sonu punjaban arrested

Sonu Punjaban arrested: अपहरण, मानव तस्करी और सेक्स रैकेट में शामिल होने के आरोप में गीता अरोड़ा उर्फ ​​सोनू पंजाबन को दिल्ली की द्वारका अदालत ने 24 साल के लिए जेल की सजा सुनाई है। द्वारका अदालत ने सोनू के सहयोगी संदीप बेदवाल को भी 20 साल कैद की सजा सुनाई।

सोनू को यौन अपराधों से बच्चों के संरक्षण (POCSO) अधिनियम के तहत दोषी ठहराया गया है।

क्या है पूरी कहानी ??

यह घटना 2009 की है जब संदीप ने एक 12 साल की लड़की को प्यार में फंसाया और फिर उसे शादी के बहाने सीमा नाम की एक महिला के पास ले गया।

लड़की के अनुसार, उसका संदीप ने बलात्कार किया था और उसे सीमा को बेच दिया गया था। सीमा ने तब उसे सेक्स वर्कर बनने के लिए मजबूर किया था और उसे सोनू पंजाबन को भी बेच दिया था।

सोनू ने कथित तौर पर सेक्स वर्कर के तौर परउसका इस्तेमाल किया था और ग्राहकों को भेजने से पहले, वह प्रॉक्सीवॉन और एल्प्रेक्स टैबलेट जैसी दवाओं का इस्तेमाल करती थी।

दिसंबर 2017 में छह महीने तक उसका पीछा करने के बाद सोनू पंजाबन को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

पंजाब के नेटवर्क का विस्तार दिल्ली, उत्तर प्रदेश और हरियाणा में कई स्थानों पर हुआ।

पुलिस की जांच अभी जारी है क्योंकि अधिकारी मामले में शामिल अन्य लोगों की तलाश कर रहे हैं।

sonu punjabn arrested

अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश प्रीतम सिंह ने उस पर 64,000 रुपये का जुर्माना भी लगाया। अदालत ने एक अन्य आरोपी संदीप बेदवाल को भी 20 साल के कारावास की सजा सुनाई और साथ ही 65,000 रुपये का जुर्माना भरने को कहा।

अदालत ने कहा कि पीड़िता के खिलाफ किए गए अपराधों के कारण, उसकी शिक्षा के साथ-साथ उसके बचपन को भी नरक बना दिया गया था और पीड़ित को 7 लाख रुपये के मुआवजे की सिफारिश की थी और दिल्ली विधिक सेवा प्राधिकरण को जरूरतमंदों को करने का निर्देश दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *