दवा कम्पनी मायलैन ने भारत में रेमदेसीवीर दवा बाज़ार में उतारी

Remdesivir

Medication for covid 19

भारत में रेमदेसीवीर से Covid-19 का इलाज शुरू किया गया।

दवा कम्पनी माइलैन ने सोमवार को कहा कि इसने कोरोनोवायरस रोगियों के उपचार के लिए भारत में ब्रांड नाम डेस्रेम ‘के तहत रेमेडिसविर दवा का सामान्य संस्करण पेश किया है।
कंपनी ने पहले कहा था कि उसका रेमेडिसविअर जुलाई में भारत में per 4,800 प्रति 100 मिलीग्राम शीशी की कीमत पर उपलब्ध होगा।

वयस्कों और बच्चों को covid 19 के इलाज करने के लिए इस दवा को मंजूरी मिल चुकी है।जेनेरिक रेमदेसीवीर का पहला संस्करण जारी किया है ,कम्पनी ने पूरे देश में इसकी बढ़ती डिमांड को देखते हुए पूर्ति करने का जिम्मा उठाया है

इस कम्पनी ने भारत में डेस्रेम की उपलब्धता के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए एक हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया गया है।

मायलन बेंगलुरु में अपनी इंजेक्टेबल सुविधा में डेस्रेम का निर्माण करेगी, जो भारत और अन्य निर्यात बाजारों में मांग को पूरा करने के लिए काम करेगी जहां माइलन ने रेमेड्सविर के व्यावसायीकरण के लिए Gilead से लाइसेंस प्राप्त किया है।

राकेश बामजई ने कहा- माइलन, इंडिया और एमरेट्स मार्केट्स, “डेस्रेम और हमारे राष्ट्रीय 24/7 COVID-19 हेल्पलाइन के शुभारंभ के साथ, हम इस महत्वपूर्ण दवा तक पहुंच बढ़ाने का लक्ष्य रखते हैं, जिसका उपयोग COVID-19 की गंभीर मरीजों के साथ वयस्कों और बच्चों के इलाज के लिए किया जाता है।”

उन्होंने बतलाया की हमारे देश में कोरोना वायरस के संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए मायलैन इस महामारी से लड़ने के लिए अपने सभी प्रयासों को ततपर रख रही है।
मायलैन और गिलियड के बीच हुए समझौतों में बेहतर गुणवत्ता ,सस्ता HIV /aids antiretroviral जैसे प्रमुख स्वास्थ्यय मुद्दों पर सालों से रिकार्ड्स कायम है ।

मई में, माइलान और घरेलू फार्मा फर्मों हेटेरो, सिप्ला और जुबिलेंट लाइफ साइंसेज ने रेमेडीसविर के निर्माण और वितरण के लिए दवा प्रमुख गिलियड साइंसेज के साथ गैर-अनन्य लाइसेंसिंग समझौतों में प्रवेश किया था।

भारत में रेमदेसीवीर के सामान्य संस्करण हेट्रो और सिप्ला कम्पनी द्वारा पहले ही लांच कर दिए गए है।अमेरिका में खाद्य और औषधि प्रशासन द्वारा आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण के तहत covid 19 के मरीजों के लिये इलाज में इस दवा का उपयोग किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *