Pop Culture Hub

Web Shows

सुप्रीम कोर्ट का फैसला,शाही परिवार को सौंप गया पद्मनाभम मंदिर का खजाना

केरल के ऐतिहासिक मंदिर पद्मनाभम मंदिर के विवाद पर फैसला सुनाया है।ट्रांवनकोर शाही परिवार के अधिकारों को बरकार रखते हुए सभी जिम्मेदारियां मंदिर की परिवार को सौंपी गयी है।

सुप्रीम कोर्ट द्वारा केरल उच्च न्यायालय के 31 जनवरी 2011 के फैसले को बर्खास्त करते हए मंदिर  का प्रशासन का कार्यभार शाही परिवार को सौंपा है।
केरल उच्च न्यायालय द्वारा मंदिर का प्रबंधन प्रशासन राज्य के अंतर्गत आएगा यह फैसला सुप्रीम कोर्ट द्वारा रद्द कर दिया गया है।

माना जाता है की पद्मनाभम मंदिर भारत का सबसे अमीर मंदिरों में से एक है।इस मंदिर का निर्माण 10वीं शताब्दी में किया गया था।कही कही पर इसका 16वीं शताब्दी में होने का उल्लेख किया गया है।ट्रांवनकोर के योद्धा मार्तंड वर्मा ने 1750 में मंदिर में आसपास के हिस्से पर युद्ध में जीत हासिल की थी।ट्रांवनकोर के शासकों के भगवान को ही वह का राजा घोषित कर दिया था।मंदिर में भवन वोष्णु की एक मूर्ति है और 6 दरवाज़े है जिसमे अरबों का सोना है ऐसा बताया जाता है।पर जितनी बार भी दरवाजों को खोलने की कोशिश की गयी कोई न कोई आपदा आ जाती है।

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status