सरकारी नौकरियों में प्लाज्मा दानदाताओं को वरीयता देने के लिए असम

असम सरकार ने 18 जुलाई से राज्य में प्लाज्मा दान को प्रोत्साहित करने के लिए एक व्यापक अभियान शुरू करने का फैसला किया है। राज्य के प्लाज्मा दाताओं को सरकारी नौकरी के साक्षात्कार सहित सभी सरकारी सुविधाओं में प्राथमिकताएँ मिलेंगी। राज्य सरकार राज्य में प्रत्येक प्लाज्मा दाता को एक प्रमाण पत्र प्रदान करेगी। सरकारी नौकरी के साक्षात्कार में प्लाज्मा दाता प्रमाणपत्र का उत्पादन करके प्लाज्मा दाता को दो अंक अतिरिक्त सभी सरकारी नौकरियों की परीक्षाओं में प्राप्त मार्क्स में मिलेंगे। असम सरकार प्लाज्मा दान को प्रोत्साहित करने के लिए एक राष्ट्रव्यापी अभियान चला रही है ।असम अन्य राज्यों के लोगों से भी असम में आने और प्लाज्मा दान करने का आग्रह करेगा। असम सरकार उन्हें हवाई टिकट प्रदान करेगी और उन्हें राज्य अतिथि के रूप में जोड़ा जाएगा। और अन्य राज्यों के लोगों को भी यह लाभ असम में प्रदान किया जाएगा।

कोरोना से ठीक हुए लोगों को अस्पताल से छुट्टी मिलते वक़्त एक प्लाज़्मा दान कार्ड प्रदान किया जाएगा।छुट्टी मिलने के 28 दिन के बाद उन्हें अधिकारियों से सम्पर्क करना हो इस सम्बन्ध में तो वो कर सकते है।लेकिन प्लाज़्मा डोनेशन के लिए सिर्फ 3 महीने के अंदर ही सम्पर्क करना होगा।अगर एक व्यक्ति भी प्लाज़्मा डोनेट करता है तो उसके 400 grm प्लाज़्मा से दो कोविद 19 से पीड़ित मरीज़ के इलाज में यह इस्तेमाल किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *