धोनी देते हैं खिलाड़ियों को पूरा मौका: सुब्रमनियन बद्रीनाथ

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

भारत और सीएसके के पूर्व बल्लेबाज सुब्रमण्यम बद्रीनाथ में एम एस धोनी के नेतृत्व कौशल की जानकारी देते हुए कहा कि अगर धोनी आप पर भरोसा नहीं करते तो भगवान भी आपकी मदद नहीं कर सकते।

बद्रीनाथ में धोनी की कप्तानी में आईपीएल के 6 सत्र खेले। उन्होंने बताया कि दुनिया खिलाड़ी के किरदार पर भरोसा करते हैं। बद्रीनाथ ने हिंदुस्तान टाइम्स को कहा “धोनी ने हमेशा महसूस किया है की भूमिका में बहुत महत्वपूर्ण है, मेरी भूमिका टीम को कठिन परिस्थितियों से बाहर निकालना थी।
धोनी आईपीएल इतिहास के सबसे सफल कप्तान रहे हैं। उन्होंने कप्तान के तौर पर तीन आईपीएल खिताब जीते हैं और आईपीएल के 12 सत्रों में 9 फाइनल खेलने वाले इकलौते खिलाड़ी हैं। बद्रीनाथ ने बताया कि एक कप्तान के तौर पर धोनी की सबसे बड़ी ताकत यह है कीवी खिलाड़ी को अतिरिक्त मौका देते हैं जिसका वह हकदार है।
“मेरी भूमिका मध्यक्रम में थी। धोनी की सबसे बड़ी ताकत यह है कि वे खिलाड़ियों को अतिरिक्त मौका देते हैं। ध्वनि एक खिलाड़ी को खुद को साबित करने का पूरा मौका देते हैं। हां , अगर उन्हें लगता है कि वह खिलाड़ी बहुत अच्छा नहीं है , तो भगवान भी उसकी मदद नहीं कर सकता। धोनी की अपनी मानसिकता है , और उन्हें इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि उनके बारे में कौन क्या कहता है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *