IHBT , हिमाचल सरकार देश में हींग , केसर उत्पादन बढ़ाने के लिए हाथ मिलाया

दुनिया के सबसे महत्वपूर्ण मसलों में केसर और हींग का उयोग किया जाता है।भारतीय थाली में कोई भी मसलेदार व्यंजन हींग के बिना अधूरा होता है और केसर का एक अलग ही अंदाज़ है।पर जितनी ज़रूरत है उससे काफी कम उत्पादन हमारे देश में इन दोनों मसलों का किया जाता है।लागत 100 टन की है पर उत्पादन केवल 6-7 टन ही हो पाता है।इसी वजह से हमे इन मसलों को इम्पोर्ट करवाना पड़ता है।



इंस्टीट्यूट ऑफ हिमालयन बायोरसोर्स टेक्नोलॉजी ( सीएसआईआर – आईएचबीटी ) और हिमाचल प्रदेश सरकार ने संयुक्त रूप से दो मसालों के उत्पादन वृद्धि करने का फैसला किया है , जिनके नाम केसर और हींग  हैं । 

  • इस योजना के तहत , IHBT निर्यातक देशों से केसर और हेग की नई किस्मों को पेश करेगा और भारतीय परिस्थितियों के अनुसार मानकीकृत किया जाएगा । 
  • IHBT हिमाचल प्रदेश में वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद ( CSIR ) की एकमात्र प्रयोगशाला है।
  • डॉ कुमार के अनुसार  इन सभी कार्यों में केसर और हिन्दमग के उत्पादक क्षेत्रों की निगरानी करना अति आवश्यक है।
  • इस योजना के तहत प्रदेश सरकार किसानों को काफी वृद्धि देखने को मिलेगी जिससे देश को भी लाभ पहुंचेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *