January 22, 2021

Live Akhbar

Pop Culture Hub

सुशांत का घर बनेगा स्मारक और नाम से खुलेगा संस्थान, परिवार ने जारी किया बयान

सुशांत सिंह राजपूत के परिवार ने सुशांत को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए बयान जारी है। सुशांत ने 14 जून को अपने मुंबई के घर में आत्महत्या कर ली थी, जिससे उनके परिवार जन, करीबी और फैंस को काफी बड़ा झटका लगा था।
सुशांत को “गुलशन” के नाम से संबोधित करते हुए उनके परिवार वालों ने आधिकारिक बयान जारी किया हैं।

परिवार का बयान
“दुनिया के सुशांत सिंह राजपूत हमारे लिए बस गुलशन थे। वह खुले विचारों वाले, बातूनी और बहुत ही तेज लड़के थे। वे हर चीज़ के लिए उत्सुक रहते थे। बिना किसी रोक टोक के सपने देखा करते थे, और उन्हें पूरा करने के लिए शेरे- ए-दिल की तरह उनका पीछा करते रहते थे। उनकी मुस्कुराहट में भी उदारता थी। वे परिवार के गौरव और प्रेरणा थे। उनकी दूरबीन उनकी सबसे बहुमूल्य सम्पत्ति थी, जिसके माध्यम से वे सितारों पर प्रेमपुर्वक अपनी निगाहें टिकाए रखते थे।

हम खुद को यह स्वीकार करने के लिए तैयार नहीं हैं कि अब हमें उनकी हंसी सुनने को नहीं मिलेगी। कि हम उनकी वो चमचमाती आंखें फिर से नहीं देख सकेंगे। कि हम उनके विज्ञान के बारे में उनसे अंतहीन विचारों को फिर से नहीं सुन सकेंगे। उनके चले जाने से परिवार में एक स्थायी खाली जगह को पैदा कर दिया है जो अब कभी नहीं भर सकेगा।
वह अपने हर एक प्रशंसक को दिल से प्यार करते थे। हम आपका शुक्रिया करते हैं कि आपने हमारे गुलशन को इतना प्यार दिया। 
उनकी स्मृति और विरासत का सम्मान करने के लिए, परिवार ने सुशांत सिंह राजपूत फाउंडेशन (SSRF) की स्थापना करने का फैसला किया है, जो युवा प्रतिभाओं का समर्थन उन क्षेत्रों में करेगा जो उनके दिल के सबसे करीब थे – सिनेमा, विज्ञान और खेल।

पटना के राजीव नगर में उनके बचपन के घर को स्मारक में बदल दिया जाएगा। हम वहां उनके व्यक्तिगत संस्मरण और सामान रखेंगे, जिसमें उनके प्रशंसकों और प्रेमियों के लिए हजारों किताबें, उनकी दूरबीन, फ्लाइट-सिम्युलेटर आदि शामिल हैं। अब से, हम उनकी यादों को जीवित रखने के लिए उनके इंस्टाग्राम, ट्विटर और फेसबुक पेज को विरासत अकाउंट के रूप में बनाए रखेंगे। हम एक बार फिर आप सभी के विचारों और प्रार्थनाओं के लिए धन्यवाद करते हैं।”
                    
                   सुशांत का परिवार