Connect with us

Hi, what are you looking for?

Web Shows

8 फिल्में Oscar में जा चुकी हैं फिर भी बॉलीवुड नहीं पहचाना इस एक्टर की काबिलियत !

-Mohit Dixit

@filmybaapofficial

बॉलीवुड में ऐसे  बहुत से एक्टर हैं जिनकी प्रतिभा के मुताबिक उन्हें काम नहीं मिला, कुछ नेपोटिज्म के शिकार हुए तो कुछ को कर दिया गया अनदेखा। आज हम ऐसे ही एक कलाकार के बारे में आपको बताएँगे। यह गायक भी हैं, म्यूजिशियन भी हैं और एक बेहतरीन एक्टर भी हैं। हम बात कर रहे हैं – रघुबीर यादव की। 

यूँ तो आपने इन्हें कई छोटी फिल्मों में देखा होगा लेकिन शायद आपने इनका नाम आज तक नहीं जाना या फिर इन्हें किसी बड़ी फिल्म में नहीं देखा होगा।  हाल ही में यह पंचायत नाम की वेबसीरीज में नज़र आये थे। रघुबीर का जन्म आज ही के दिन 25 जून 1957 को मध्य प्रदेश के जबलपुर में हुआ था। महज़ 10 साल की उम्र में ही इन्होंने थिएटर का दामन पकड़ लिया था। और पारसी थिएटर कंपनी के साथ 15 साल की उम्र तक 70 नाटकों के 2500 शोज कर चुके थे। 18 साल की उम्र में जब वह नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा पहुँचे तब उन्होंने 40 नाटकों के 2000 शोज़ कर डाले। 

सिनेमा में उन्हें पहला ब्रेक साल 1985 में मिला। उनकी पहली फ़िल्म थी – मेस्सी साहब । अपनी पहली ही फ़िल्म में वह मुख्य भूमिका में थे। इस फ़िल्म में उनकी एक्टिंग को खूब सराहा गया। उनके अभिनय के लिए उन्हें 2 इंटरनेशनल अवार्ड्स मिले। इसके बाद उन्होंने कई अच्छी फिल्में दी लेकिन शायद बॉलीवुड को वो मुख्य भूमिका में भाये नहीं। जिसके कारण उन्हें सपोर्टिंग रोल्स करने पड़े। अच्छी बात यह है कि अच्छा कलाकार कहीं भी छुपता नहीं और उसकी कलाकारी दर्शकों को अपनी ओर जरूर खिंचती है। रघुबीर यादव 8 ऐसी फिल्मों का हिस्सा रहे हैं जो अकादमी पुरस्कार यानी ऑस्कर में इंडिया की तरफ से भेजी गई। यह एक रिकॉर्ड है। चलिए, जानते हैं हम कौन सी 8 फिल्मों की बातवकर रहे हैं-
1)  सलाम बॉम्बे (1988)

यह फ़िल्म एक क्राइम-ड्रामा है। इस फ़िल्म की कहानी बॉम्बे की झुग्गी झोपड़ी और अंडरवर्ल्ड के काले धंधों को संजोय कर लिखी गई। मीरा नायर इस फ़िल्म की निर्देशक थीं। रघुबीर ने इस फ़िल्म में ‘छिल्लम‘ नाम का किरदार निभाया था।
2) रुदाली (1993)

कल्पना लाज़मी द्वारा निर्देशित इस फ़िल्म में मुख्य भूमिका डिंपल कपाड़िया ने निभायी थी। इस फ़िल्म की कहानी राजस्थान की उन छोटी जात वाली औरतों के ऊपर है जिन्हें बड़े घरों में मय्यत पर रोने को पैसे मिलते हैं। जिन्हें इंग्लिश में Professional Mourners कहा जाता है। यह उनका व्यवसाय है । रघुबीर इस फ़िल्म में बुधुआ के किरदार में थे।

3) बैंडिट क्वीन (1994)

यह फ़िल्म फूलन देवी नाम की डाकू की बायोपिक है। नेशनल अवार्ड जीतने वाली यह फ़िल्म शेखर कपूर ने निर्देशित की थी। इस फ़िल्म के रिलीज पर प्रतिबंध भी लगाया गया था। रघुबीर इस फ़िल्म में माधो के किरदार में थे।
4) 1947 अर्थ (1999)

दीपा मेहता द्वारा निर्देशित इस फ़िल्म को भारत-पाकिस्तान के बंटवारे के वक्त सेट किया गया। आमिर खान इस फ़िल्म में मुख्य भूमिका में थे। यह उनकी पहली फ़िल्म थी जो ऑस्कर के लिए इंडिया से भेजी गई। इस फ़िल्म में भी रघुबीर यादव थे।

5)  लगान (2001)

ऐतिहासिक पृष्ठभूमि पर बनी यह फ़िल्म एक स्पोर्ट ड्रामा है। आमिर खान ने ही इस फ़िल्म में मुख्य भूमिका निभाई थी। इसका निर्देशक आशुतोष गोवारिकर ने किया था। रघुबीर को इस फ़िल्म में अर्थ (1999) के अभिनय को देख कर लिया गया। वह यहाँ भूरा के किरदार में थे।
6) वाटर (2005)

इस फ़िल्म का निर्देशन भी दिपा मेहता ने ही किया है। जॉन अब्राहम इस फ़िल्म के मुख्य कलाकार थे। वाटर फ़िल्म बनारस में रहने वाली विधवाओं की कहानी के ऊपर है। इसका स्क्रीनप्ले अनुराग कश्यप ने लिखा है। रघुबीर इस फ़िल्म में गुलाबी के किरदार में थे।
7) पीपली लाइव (2010)

आमिर खान के प्रोडक्शन में बनी यह फ़िल्म किसानों की आत्महत्या और मीडिया की TRP को लेकर मची होड़ पर एक हास्य-कटाक्ष है। रघुबीर इस फ़िल्म में मुख्य किरादर में थे। इस फ़िल्म का एक गाना बहोत मशहूर हुआ था- ‘महँगाई डायन खाये जात है‘ यह गाना भी रघुबीर ने ही गाया था।
8) न्यूटन (2017) 

इस फ़िल्म का प्लॉट नक्सली इलाकों में चुनाव कराने के इर्द-गिर्द घूमता है। राजकुमार राव यहाँ मुख्य भूमिका में हैं। फ़िल्म का निर्देशन अमित वी. मसुरकर ने किया है। रघुबीर यहाँ लोकनाथ की भूमिका में है।

यह वह आठ फिल्में हैं जो सभी ऑस्कर अवार्ड के लिए भारत से भेजी गयीं थीं। और इन सभी फ़िल्म में देश के नाम के अलावा एक ही और चीज़ कॉमन है और वह हैं- रघुबीर यादव। यह लिस्ट देख ऐसा लगता है मानो रघुबीर ऑस्कर में फ़िल्म पहुँचाने के लकी चार्म हैं। 

रघुबीर जैसे कलाकार भारतीय सिनेमा को सौभाग्य से मिले हैं लेकिन दुख यह है कि उन्हें उनकी प्रतिभा मुताबिक न काम मिला और न ही नाम मिला। 

हमारी ओर से रघुबीर यादव को बहुत बहुत शुभकामनाएं।

आपको हमारी यह स्पेशल खबर कैसी लगी हमें कमेंट बॉक्स में ज़रूर बताइये। अगर सच में आपको यह रिपोर्ट पसन्द आयी हो तो शेयर जरूर करें। इंस्टाग्राम , फेसबुक और ट्विटर पर Filmybaapofficial नाम के पेज को follow करें।

Avatar
Written By

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May Also Like

Want updates of New Shows?    Yes No