Pop Culture Hub

Anime

सुप्रीम कोर्ट ने बदला फैसला,जगन्नाथ पूरी रथ यात्रा निकालने की अनुमति मिली

भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा को विधिपूर्वक निकालने की अनुमति सुप्रीम कोर्ट द्वारा दी गयी।सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों के अनुसार स्वास्थ्य व्यवस्थओं को अनदेखा करे बिना राज्य सरकार और केंद्र सरकार के तालमेल से सभी बातों का ध्यान रखते हुए रथयात्रा को निकालने की अनुमति दे दी गयी है।आपको बता दे 18 जून को सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट द्वारा रातजयत्र निकलने पर प्रतिबन्ध लगा दिया गया था।जैसा की देश में कोरोना वायरस का भयानक प्रभाव चल रहा है और दिन ब दिन संक्रमितों के आंकड़े बढ़ते ही नज़र आ रहे है।
लेकिन जब यात्रा निकलने ओर ऑर्टिबन्ध लगाया गया यो बहुत सी पुण्टविवहार याचिका दायर की गयी ।जिस वजह से आज सुनवाई के दौरान सुरेमे कोर्ट ने कुछ नियम और शर्तों के साथ रथ यात्रा निकलने की अनुमति प्रदान कर दी है।अब यह उदिध सरकार पर है की अगर उन्हें कोई गलत व्यवस्थाएं नज़र आती है तो वह रथ यात्रा को रोक भी सकते है।
18 जून को सुनवाई के दौरान चीफ जस्टिस  द्वारा कहा गया था,”अगर ऐसे हालातों में  रथ यात्रा निकली गयी यो भगवान जग्गनाथ हमे माफ नही करेंगे ।”
इसी बीच फैसले से पहले केंद्रीय ग्रह मन्त्री अमित शाह द्वारा जगन्नाथ मंदिर समिति अध्यक्ष गजपति महाराजा दिव्यसिंह देव से रथ यात्रा के विषय पर चर्चा की।1736 से चली आ रही रथयात्रा से लोगो की धार्मिक भावनाएं जुड़ी हुई है।हर साल देशभर से रथयात्रा में लाखों की मात्रा में श्रद्धालु दर्शन करने आते है।
चीफ जस्टिस इस ऐ बोबडे ने  रथयात्रा पर आयी पुनर्विचार याचिकाओं पर सोमवार को तीन न्यायाधीशों द्वारा एक पीठ का गठन किया।पुनर्विचार के फैसले के बाद 18 जून के फैसले को बदलते हुए दिशा निर्देशों के साथ रथयात्रा निकलने की अनुमति प्रदान की गयी। आज शाम 5 बजे ओडिशा मुख्यमंत्री नवीन पटनायक द्वारा रथयात्रा के आयोजन की व्यवस्थओं को लेकर बैठक की गयी।

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status