1925 में कुत्ते के कारण हुआ था दो देशों के बीच युद्ध

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

लेख का शिर्षक पढ़ने के बाद आप सभी काफी ज्यादा हैरान होंगे लेकिन यह बात सच है। विश्व मे कई गंभीर युद्ध हुए है लेकिन ऐसा युद्ध कभी नही हुआ। कुत्ते के कारण दो देश आपस मे भीड़ गए थे। हालांकि यह युद्ध बड़े देशों के बीच नही हुआ था लेकिन फिर भी इसकी कहानी काफी ज्यादा पुरानी और रोचक है।

कैसे हुआ था युद्ध?
यह बात 1925 की है जब ग्रीस(यूनान) और बुल्गारिया जो कि यूरोप में स्तिथ दो छोटे देश थे उनके बीच तनातनी चल रही थी। दोनों देश के राजा एक दूसरे के कट्टर दुश्मन बन गए थे। 1925 मे एक कुत्ता ग्रीस की सीमा से मैसिडोनिया की सीमा पार करते हुए दूसरे देश  में पहुंच गया। कुत्ते का मालिक भी उसे ढूंढते ढूंढते मैसिडोनिया की सीमा पार कर दूसरे देश पहुंच गया। कुत्ते का मालिक ग्रीस की सेना में एक सिपाही था।

मैसिडोनिया की सीमा की सुरक्षा बुल्गारिया के सिपाही किया करते थे। जब कुत्ते का मालिक सीमा पार कर पहुंचा तो तैनात सिपाहियों ने देखा कि ग्रीस का एक सिपाही उनकी सीमा में घुस रहा है। सैनिकों ने बिना कुछ सोचे समझे उसे तुरंत गोली मार दी। जब ग्रीस को यह बात पता चली तो वहां के राजा ने गुस्से में बुल्गारिया पर हमला बोल दिया।
यह युद्ध को आम युद्ध नही था। युद्ध 18 अक्टूबर से लेकर 23 अक्टूबर तक चला। करीब 50 लोग इस युद्ध मे मारे गए। आखिर में दोनों देशों के बीच एक सुलझाव हुआ। संधि यह थी कि बुल्गारिया को युद्ध मे जितना भी नुकसान हुआ है उन सब की भरपाई ग्रीस करेगा। इसके बाद ग्रीस ने बुल्गारिया को हर्जाने के तौर पर 45 हज़ार पाउंड का भुगतान दिया। आज के समय मे यह करीब 43 लाख होगा।


इसी तरह दोनों देशों के बीच एक कुत्ते के कारण युद्ब छिड़ गया था। हालांकि यह एक बहुत ही मूर्ख निर्णय था लेकिन यह कहानी काफी रोचक है। 


Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *