Pop Culture Hub

Recommendations

नेपाल के स्कूलों में चीन की भाषा मेंडरिन पढ़ाना अनिवार्य, निजी स्कूलों में चीनी दूतावास करवा रहा ये….

नेपाल की शिक्षा प्रणाली में बहुत व्यापक रूप से बदलाव होने जा रहा है। वहां के कई निजी विद्यालयों में चीन की भाषा मेंडरिन को अनिवार्य कर दिया है। 14 जून 2020 को दी हिमालयन टाइम्स की एक रिपोर्ट में इस बात का खुलासा किया है। करीब दस बड़े निजी विद्यालयों से जब बात की गई तो इस बात का खुलासा हुआ है। 
वहां की निजी शिक्षा के केंद्रों पर जब रिपोर्टर ने पता करने की कोशिश की तो जानकारी प्राप्त हुई की उन सभी विद्यालयों में चीन के दूतावास के द्वारा शिक्षक बुलवाए जाएंगे। साथ ही केवल उनके रहने और खाने के लिए ही पैसे  दिए जाएंगे, बाकी सारा खर्चा चीन के दूतावास का कार्य है जो कि नेपाल की राजधानी काठमांडू में स्थित है। 
साथ ही फैसले को लेकर वहां के निजी स्कूलों के मुख्य संगठन को भी इस विषय की जानकारी नहीं है, साथ ही वहां के मुख्य अभिभावक संगठनों से भी इतने बड़े बदलाव पर कोई चर्चा नहीं की गई।  शिक्षा एक संस्कृति और उस इलाके में जीवन चलाने और नए आयाम खोजने का नाम है। वहीं भाषा एक जरिया है। हर संस्कृति कि अपनी पहचान है, और उसकी अपनी मातृ भाषा। ऐसे में यदि किसी देश को गुलाम बनाना हो तो उनसे उसकी भाषा को छीना जाता है। 
वहीं नेपाल की कम्यूनिस्ट सरकार के नीचे अचानक ऐसे बदलाव का होना, वह भी बिना उनकी जानकारी के, यह किसी और बात की ओर संकेत कर रहा है। भारत के साथ अचानक बढ़े विवाद के पीछे छिपी शक्तियां साफ नजर आ रही हैं।

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status