January 25, 2021

Live Akhbar

Pop Culture Hub

महाराष्ट्र के किसानों के संगठन ने जीएम फसल लगाने की धमकी दी

हाल ही में , महाराष्ट्र आधारित किसान संघ निकाय , शतकरी संगठन ने कपास , मक्का , चावल , सरसों , सोयाबीन और बैगन के बिना अपूव हुए आनुवंशिक रूप से संशोधित बीज के उपयोग के लिए आंदोलन की घोषणा की है ।
 शतकरी संगठन जीएम बीज का एक बड़ा समर्थक है । इसका मुख्य उद्देश्य किसानों को , बाजारों और प्रौद्योगिकी तक पहुंच की स्वतंत्रता प्रदान करना है । पिछले साल इसके सदस्यों ने हर्बिसाइड टोलरेंट बीटी कपास के बीज लगाकर कानून तोड़ा था । इस वर्ष भी यह सदस्य इसे दोहराने की योजना बना रहे हैं ।
अवैध रूप से जीएम के बीजों पर रोक लगाने की मांग करि गयी
बद्रीनारायण चौधरी जो भारतीय किसान संघ के कार्यकर्ता हौ उन्होंने सरकार सर सभी किसान समूहों के मांगों में न आने का निवेदन किया।उन्होंने यह बताया की जो लोग जीएम की आवेश बिक्री करवा रहे हौ वो एक तरह से देश विरोधी काम कर रहे है।उनका सरकार से निवेदन ही की इसके तहत कड़क से कड़क कदम उठाये जाए।