January 18, 2021

Live Akhbar

Pop Culture Hub

बैंक ऑफ बड़ौदा,यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने सभी MCLR को कम किया

राज्य – संचालित उधारदाताओं ने बैंक ऑफ बड़ौदा ( BOB ) और यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ( UBI ) ने सभी किरायेदारों के बीच फंड आधारित उधार दरों ( MCLR ) की अपनी सीमांत लागत में कटौती की घोषणा की है । 
बैंक ऑफ बड़ौदा ने अपने एक साल के एमसीएलआर को संशोधित कर 7.80 फीसदी से 7.65 फीसदी कर दिया है । इसके छह महीने के MCLR को 7.50 प्रतिशत से नीचे संशोधित कर 7.65 प्रतिशत कर दिया गया है । यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने अपने एक साल के MCLR को 7.70 फीसदी घटाकर 7.70 फीसदी कर दिया है । यूबीआई के छह महीने के एमसीएलआर में 7.45 फीसदी की कटौती की गई है । देश के सबसे बड़े ऋणदाता भारतीय स्टेट बैंक ( SBI ) ने अपने MCLR को सभी किरायेदारों से 25 बेस पॉइंट कम कर दिया है ।बैंक ऑफ बड़ौदा , यूनियन बैंक ऑफ़ इंडिया ने सभी MCLR को कम किया ।
जबकि निजी क्षेत्र के ऋणदाता एचडीएफसी बैंक ने अपने एमसीएलआरएस में 5 बीपीएस की कटौती की है, राज्य के बैंक ऑफ महाराष्ट्र ने इसे 8 जून से 20 आधार अंकों तक घटा दिया है।