January 16, 2021

Live Akhbar

Pop Culture Hub

अमेरिका ने वैक्सीन के सफल परीक्षण का किया दावा

दुनिया भर में कोरोना का कोहराम अभी भी थमने का नाम नहीं ले रहा है।  ऐसे में अलग -अलग देश दवाओं की शोध में दिन रात लगे हुए है , दवा की खोज करना कई तरीको से किसी देश के लिए आवश्यक है। सबसे महत्वपूर्ण बात तो लोगो की जानो को बचाना है ,और स्वयं को आर्थिक मंदी  से भी बाहर निकालना है।

सबसे ज़्यादा कोई देश प्रभावित है तो वो है अमरीका जहां 20 लाख से अधिक केसेस [पाए गए  है. एक लाख लोग अपनी जान भी खो चुके है। अमेरिका ने इस दबाव में एक खोज करने का दवा किया है – ‘रेमडेसिवीर ‘ जो एक एंटीवायरल दवा है उसका बंदरो पर सफल परीक्षण रहा। उनकी माने तो यह दवा कोरोना मरीज़ो को सही कर सकती है और बंदरो के ऊपर ट्रायल करने बाद अमेरिका ने  ‘रेमडेसिवीर ‘ के टेस्ट कोरोना संक्रमितों पर भी करना शुरू कर दिए है।

अमरीका के स्वास्थ मंत्री ने बताया की अब वे किसी भी कोरोना मरीज़ को संक्रमित होते ही  ‘रेमडेसिवीर ‘ दवा देने लगे है। पाए गए शोध के अनुसार ऐसा करने से मरीज़ो को निमोनिया और गंभीर स्तिथि में नहीं जाना पड़ता है।

बंदरो पे किये जाने वाले शोध में यह पता चला की  ‘रेमडेसिवीर ‘ दवा का प्रयोग करने से फेफड़े उतने कमज़ोर नहीं होते और रिकवरी रेट भी काफी तेज़ रहता है।

नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ हेल्थ ने  ‘रेमडेसिवीर ‘ को एक बेहतर दवा बताया है क्योंकि यह दवा सारस समेत सीओवी के मरीज़ो पर भी इस्तेमाल की जा चुकी है और परिणाम सफल रहे थे।