भारत और चीन के सीमा विवाद के बीच बड़ी खबर

नई दिल्ली, 9 जून : भारत और चीन के बीच हुए सैनिक विवाद को लेकर बड़ी सूचना सामने आई है। विवाद के अधिक बढ़ने पर और कई बड़ी समाचार एजेंसियों द्वारा युद्ध के कयास लगाने के बाद, इस समस्या पर विराम लगने के साफ लक्षण नजर आ रहे हैं। दोनों ही सेनाओं ने कुछ कदम पीछे की ओर करें है तथा शांति – वार्ता की ओर अग्रसर हो चुके हैं।

अगले हफ्ते से शुरू होने वाली सैन्य वार्ता के अगले दौर में, सैनिकों  भारत और चीन पूर्वी लद्दाख के कई स्थानों पर जमीन पर विस्थापित हो चुके हैं।  शीर्ष सरकारी सूत्रों ने एएनआई को बताया कि दोनों सेनाओं के बीच इस सप्ताह पैट्रोलिंग पॉइंट 14 (गालवान क्षेत्र), पैट्रोलिंग पॉइंट 15 और हॉट स्प्रिंग्स क्षेत्र सहित कई स्थानों पर बातचीत होने वाली है।  अगले कुछ दिनों में होने वाली वार्ता और 6 जून को आयोजित लेफ्टिनेंट जनरल-स्तरीय वार्ता के कारण, चीनी सेना ने 2, लद्दाख घाटी, PP-15 और पूर्वी लद्दाख क्षेत्र के हॉट स्प्रिंग्स से अपने सैनिकों को 2 से पीछे खींच लिया है  2.5 किलोमीटर, उन्होंने कहा।  सूत्रों ने कहा कि चीनी विद्रोह को वापस लेने के लिए, भारतीय पक्ष ने इन क्षेत्रों से अपने कुछ सैनिकों और वाहनों को वापस लाया।  सूत्रों ने कहा कि बटालियन कमांडर स्तर पर इन बिंदुओं पर बातचीत चल रही है और उन्होंने अपने समकक्षों के साथ हॉटलाइन वार्ता की है।
उन्होंने कहा कि इन क्षेत्रों में शुरुआती बातचीत पूर्वी लद्दाख में ही शुरू हुई थी, इस जगह से ही चीनी गतिविधियां शुरू हुई थीं।  भारतीय सैन्य दल पहले ही चुशुल में हैं ताकि चीनियों को बातचीत में शामिल किया जा सके और इस संबंध में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ समन्वय कर रहे हैं। इस स्थिति में आसार शांति के ही नजर आ रहे हैं। जहां सारी दुनिया कोरोना के संकट से ग्रस्त है, वहीं इस मामले से लोगों के बीच काफी हद तक चिंता बढ़ गई थी, पूरे विश्व की नजर भारत और चीन के बीच सीमा विवाद पर थी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *