देश में लिक्विडिटी लाने के लिए RBI लांच करेगा ओपन मार्केट ऑपेरशन

भारतीय रिजर्व बैंक आरबीई ने 2 जुलाई को प्रत्येक 10,000 करोड़ की सरकारी सिक्योरिटीज की बॉन्ड बिक्री और खरीद नीलामी का एक और दौर शुरुआत करने का निर्णय लिया है। चालू और विकसित तरलता और बाजार की स्थितियों की समीक्षा करते हुए, रिज़र्व बैंक ने एक साथ सरकारी प्रतिभूतियों की खरीद और बिक्री का निर्णय लिया है । 
2 जुलाई, 2020 को प्रत्येक 10,000 करोड़ के लिए ओपन मार्केट ऑपरेशंस (OMO) के तहत लंबी अवधि के लिए सरकारी बॉन्ड खरीदेगा ।जो कि 2027, 2009, 2031 और 2033 में परिपक्व होते हुए छोटी प्रतिभूतियों की चार प्रतिभूतियों की बिक्री करते हैं।दो इस साल और अगले साल दो परिपक्व हो रहे हैं। ओपन मार्केट ऑपेरशन मुख्य रूप से लिक्विडिटी का प्रबंधन करने के उद्देश्य से है। इस कदम से देश में लिक्विडिटी बन जाएगी और मौजूद हालात में 
यह एक तरह से 2011-12 में फ़ेडरल रिज़र्व द्वारा शुरू किया गया ऑपेरशन ट्विस्ट की तरह है जिसमे सरकारी ट्रेज़री सेकुरिटीज़ से दीर्घकालिक सरकारी कर्ज़ की अदला बदली के रूप में हुआ था। 
ऑपेरशन OMO आरबीआई अगले साल 10000 करोड़ की परिपक्व होने वाली राशि का मार्केट में बिक्री करने जा रहा है।इससे देश की र्थव्यवस्था में तरलता आएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *