एम एस धोनी दुनिया के सबसे रोमांचक क्रिकेटर होते: गौतम गंभीर

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

एम एस धोनी ने 16 एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में नंबर तीन पर बल्लेबाजी की है।



गौतम गंभीर ने कहा अगर धोनी नंबर तीन पर बल्लेबाजी कर रहे होते तो वे दुनिया के सभी रिकॉर्ड तोड़ चुके होते।


पूर्व भारतीय ओपनर गौतम गंभीर ने कहा क्रिकेट जगत ने एम एस धोनी को अगर भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान के रूप में ना देखा होता तो वे भारत के लिए नंबर तीन पर खेलते हुए दुनिया के सबसे रोमांचक क्रिकेटर होते और क्रिकेट जगत के कई महान रिकॉर्ड को तोड़ चुके होते।
महेंद्र सिंह धोनी एक अलग ही रूप में नजर आते थे जब वे एक टॉप ऑर्डर बैट्समैन की तरह खेलते थे।
एम एस धोनी ने 2004 में भारत के लिए क्रिकेट में डेब्यू किया था।
जब उन्हें नंबर तीन पर बल्लेबाजी करने का मौका मिला तो उन्होंने पूरे विश्व को अपनी ताकत और बल्लेबाजी से अपनी तरफ आकर्षित किया। उन्होंने अपने जीवन के दो सबसे ताबड़तोड़ शतक नंबर तीन पर बल्लेबाजी करते हुए बनाए हैं , जो कि श्रीलंका और पाकिस्तान के खिलाफ आए थे।
धोनी नंबर तीन पर बल्लेबाजी करते हुए विश्व भर में अपनी छाप छोड़ चुके थे। उन्होंने 16 एकदिवसीय मैचों में नंबर तीन पर बल्लेबाजी करते हुए 82 की औसत से लगभग 100 का स्ट्राइक रेट रखते हुए 993 रन बनाए हैं। 10,773 एक दिवसीय रनों में से अधिकतर रन उन्होंने नंबर 5 या 6 पर बल्लेबाजी करते हुए बनाए।

   एम एस धोनी के अंतरराष्ट्रीय रिकॉर्ड्स

कप्तानी मिलने के बाद धोनी ने एक शांत और सहनशील कप्तान और फिनिशर का रोल अदा किया। 
गंभीर ने स्टार स्पोर्ट्स क्रिकेट कनेक्टेड शो के दौरान महेंद्र सिंह धोनी को लेकर अपने विचारों को सामने रखा।
गौरतलब है कि महेंद्र सिंह धोनी को विश्व कप 2019 के बाद से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलता हुआ नहीं देखा गया।
हालांकि वे 2020 आईपीएल शुरू होने से पहले चेन्नई सुपर किंग्स के कैंप में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए नजर आए थे। किंतु धोनी के भविष्य को लेकर अभी भी कई तरह की चर्चाएं हो रही हैं। मगर इस महान क्रिकेटर ने अपने भविष्य को लेकर अभी भी चुप्पी साधी हुई है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *