आर्कटिक ऑइल स्पिल लीकेज के बाद रूस में आपातकाल की घोषणा

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

हाल ही मैं रूस में आपातकाल की घोषणा क्रासनोयासर्क क्षेत्र मैं  कर दी गयी है । 
वजह बताई जा रही है अम्बरनाया नदी में 20000 हज़ार डीज़ल बिजली केंद्र से नदी में मिल गया है।साइबेरीआई प्रायद्वीप में स्थित है क्रासनोयासर्क शहर जो काफी घनी आबादी वाला क्षेत्र कहा जाता है ।
अम्बरनाय नदी आर्कटिक महासागर में जाकर सम्मलित होती है ।इसका नेटवर्क काफी बड़ा है।मॉस्को से लगभग तीन हज़ार किमी दूर स्थित नोरिलस्क शहर (जो देश की निकल राजधानी के नाम से भी प्रचलित है) के पास थर्मोइलेक्ट्रिक पावर प्लांट स्थित है।यह प्लांट पर्माफ्रॉस्ट पर बनाया गया है जो कुछ प्राकृतिक दृश्यों से जलवायु के अनियंत्रण की वजह से कमज़ोर माना जाता है।
एक शोध के अनुसार ,नोरिलस्क शहर सबसे ज्यादा प्रदूषित शहरों में आता है । इस लीकेज के कारण यहां पर स्थानीय परिस्थितियों पर बहुत गहरा प्रभाव पड़ने वाला है।
आपातकाल की घोषणा से साफ-सफाई के प्रयासों के लिए प्रवेश बल और संघीय संसाधनों की व्यवस्था हो जाएगी। अम्बरनाया नदी को साफ करना मुश्किल है क्योंकि सड़के  यहाँ से काफी दूर है।और बताया जा रहा है की इसे साफ होने में कम से कम 10 साल लग जाएंगे जो काफी अच्छे संकेत नही है।ज़रा सी चूक पूरी रूस में हाहाकार मचा देगी।कोई ज़रा सी  चिंगारी भी अगर लग गयी तो यह आग को काबू में करके  रोकना बहुत कठिन हो जाएगा।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *